सुषमा को याद कर भावुक हुए कमलनाथ, बताया समाज सेविका

मुंबई दौरे पर कहा कि मेरा प्रयास है कि मध्य प्रदेश में निवेश आये , मध्यप्रदेश में एक विश्वास का वातावरण बने क्योंकि निवेश तभी आता है ,जब एक विश्वास का वातावरण पैदा होता है और अपने प्रदेश में विश्वास का वातावरण बने ,इसको लेकर में प्रयासरत हूं।

0
37
kamalnath

भोपाल: मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि सुषमा स्वराज के निधन की खबर बेहद दुखद। मेरा उनसे बेहद पुराना संबंध था , हम दोनों के बीच एक भाई बहन का संबंध सदैव रहा और जब मैं केंद्र में संसदीय कार्य मंत्री था और वह प्रतिपक्ष की नेता थी।लगभग रोज उनके साथ बैठने का ,चर्चा करने का ,उनके साथ मुद्दों पर बहस करने का मौका मिलता था।मुद्दों पर हमारी बहस ज़रूर होती थी क्योंकि अलग-अलग नजरिया दृष्टिकोण होता था लेकिन उनकी एक खूबी थी जो भी हमारे मतभेद होते थे , हम लोकसभा में बड़े प्यार और सरल तरीके से इसका सामना करते थे।

मैं मानता हूं कि वो केवल एक राजनीतिक नहीं ,एक समाज सेविका भी थी।मैं उनके परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करता हूं।ईश्वर उनके परिवार को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें।

मुंबई दौरे पर कहा कि मेरा प्रयास है कि मध्य प्रदेश में निवेश आये , मध्यप्रदेश में एक विश्वास का वातावरण बने क्योंकि निवेश तभी आता है ,जब एक विश्वास का वातावरण पैदा होता है और अपने प्रदेश में विश्वास का वातावरण बने ,इसको लेकर में प्रयासरत हूं। मध्यप्रदेश के पास बहुत सारे मौके हैं कि निवेश आये।हमारे पास हर क्षेत्र में मौके हैं ,इसलिए इस दौरे पर कई उद्योगपतियों से चर्चा कर उनका विश्वास प्रदेश को केसे मिले, इस पर चर्चा करूंगा क्योंकि निवेश से जुड़ा हुआ है हमारे नौजवानों का भविष्य ,इससे आर्थिक गतिविधि बढ़ेगी ,रोजगार के नए मौक़े बढ़ेंगे।कई उद्योगपतियों से इस दौरान मुलाकात करूंगा।

उनसे से चर्चा कर यह जानूँगा कि उनकी क्या सोच है , हमारी निवेश नीति कैसी हो , इस पर उनसे चर्चा करूंगा।हम नई निवेश नीति बनायेंगे ,जो जिले पर आधारित हो ,जो रोजगार पर आधारित हो ,जो आर्थिक गतिविधियों से जुड़ी हो,रोजगार के साथ आर्थिक गतिविधियाँ भी बढ़े , यह हमारी सोच है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here