स्मार्ट मीटर से छेड़छाड़, सिग्नल मिलते ही टीम ने मारे छापे…

0
32

इंदौर। स्मार्ट मीटर से होने वाली छेड़छाड़ के जैसे ही बिजली कंपनी की टीम को सिग्नल मिले, टीम ने छापा मारने की कार्रवाई की। प्रबंध निदेशक श्री विकास नरवाल के निर्देशन में हुई कार्रवाई में इस तरह के संदिग्ध उपभोक्ताओं के यहां छापे मारकर गड़बड़ी सामने आने पर पंचनामे बनाए गए। इनसे अब छ: लाख रूपए वसूले जाएंगे।

मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के स्मार्ट मीटर कंट्रोल रूम के अधीक्षण यंत्री डीएस चौहान ने बताया कि कंट्रोल रूम 24 घंटे कार्यरत रहता है। यहां रेडियो फ्रिक्वैंसी स्मार्ट मीटर से बिजली लाइन व मीटर संबंधी हर गतिविधियों के सिग्नल मिलते है। शहर के राज मोहल्ला जोन एवं जीपीएच बिजली जोन से जुड़े कुछ उपभोक्ताओं के यहां मीटर से छेड़छाड़ के सिग्नल मिलने पर घरों पर छापे मारे गए। इस दौरान मोहम्मद आमील निवासी टाटपट्टी बाखल, मुशारी अली पिता साजिद अली निवासी टापट्टी बाखल के यहां छापे मारे गए।

यहां मीटर में छेड़छाड़ पाई गई। इसी तरह नूर मोहम्मद पिता बाबू खान अहिल्या पल्टन, साबिर पिता उमर कुरैशी अहिल्या पल्टन, सुजाउद्दीन पिता बशीरूद्दीन अहिल्या पल्टन, असलम खां पिता शमेशर खां जूना रिसाला, अब्दुल सलीम पिता अब्दुल लतीफ जूना रिसाला के यहां भी छापा मारने पर मीटर से गड़बड़ी पाई गई। इन स्थानों पर इंजीनियर अंकुर गुप्ता, राजकुमार शाह, महेश बिष्ट की मौजूदगी में पंचनामे बनाए गए।

बिजली कंपनी की टीम ने इन स्थानों पर बने पंचनामों के जरिए कुल 6 लाख रूपए वसूलने की तैयारी की है। इधर शहर अधीक्षण यंत्री अशोक शर्मा ने उपभोक्ताओं से मीटर में छेड़छाड़ न करने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि मीटर से छेड़छाड़ पाए जाने पर न केवल मीटर की राशि अदा करना होगी, बल्कि अन्य कानूनी कार्रवाई से भी गुजरना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here