ranjeet hanuman

खजराना गणेश (Khajrana Ganesh) भगवान का चांदी का सिंहासन जैसे राजस्थान के जयपुर के कारीगरों द्वारा बना कर तैयार किया गया है ठीक वैसे ही अब इंदौर के रणजीत हनुमान (Ranjit hanuman) मंदिर का भी चांदी का गर्भगृह राजस्थान के चूरू जिले के कारीगरों द्वारा बना कर तैयार किया जाएगा। इसकी शुरुआत 2 अप्रैल से की जाएगी। जानकारी के मुताबिक, रणजीत हनुमान मंदिर में सांसद शंकर लालवानी और कलेक्टर मनीष सिंह के साथ मंदिर में अन्य लोगों की मौजूदगी रहेगी। ऐसे में प्रमुख कारीगर माणिकचंद जांगिड़ से एग्रीमेंट कर 40 किलो चांदी उन्हें दी जाएगी।

इस पंडित ने ही महाकाल मंदिर का गर्भगृह और द्वार बनाया है। आपको बता दे, मंदिर के प्रमुख पंडित के अनुसार, डेढ़ साल में मंदिर का गर्भगृह बन कर इंदौर आएगा। खास बात ये इस मंदिर के पहले पाट में राजबाड़ा और गोपाल मंदिर से निकली 200 साल पुरानी सागवान की लकड़ी का इस्तेमाल किया जाएगा। उसके बाद उस पर चांदी की परत चढ़ाई जाएगी। फिर उस पर खूबसूरत नक्काशी की जाएगी। गौरतलब है कि 134 साल पुराने इस मंदिर में अब रणजीत सरकार 300 किलो की चांदी से बने गर्भगृह में विराजित होंगे। गर्भगृह के भीतर और बाहर की दीवार पर चांदी लगाई जाएगी।

Must Read : Indore : इंदौर में बढ़ती महंगाई को लेकर कांग्रेस ने सभी चौराहों पर किया प्रदर्शन

वहीं नवरात्रि के दूसरे दिन से ही मंदिर में कार्य की शुरुआत हो जाएगी। दरअसल, 3 अप्रैल को अभिजित मुहूूर्त निकला है। जिसमें ये कार्य किया जाएगा। मंदिर को लेकर मुख्य पुजारी पं. दीपेश व्यास 3 अप्रैल की सुबह 11.30 से 12.30 बजे से इस निर्माण कार्य की शुरुआत होगी। ऐसे में इस निर्माण में पहले दिवार पर सागवान की लकड़ी के पटिये लगाए जाएंगे उसके बाद चांदी की परत उस पर चढ़ाई जाएगी। गर्भगृह की छत पर चांदी से निर्मित हनुमान यंत्र या श्रीराम यंत्र लगाया जाएगा।