आज के बदलते दौर में नई-नई तकनीक का भी अविष्कार हो रहा है। वही वॉट्सएप भी लगातार समय-समय अपडेट्स कर रहा है। ताकि यूजर्स को किसी प्रकार की दिक्कतो का सामना नही करना पड़े। इसी बीच वॉट्सएप ने एक नया फीचर लाया है। इस फीचर की वजह से दो फोन में एक ही नंबर से वॉट्सएप चला सकते हैं। वो भी बिना किसी रुकावट के…. आइए जानते है

दरअसल, वॉट्सएप ने कुछ समय पहले WhatsApp Companion Mode नाम का एक फीचर रोल आउट किया है। फिलहाल इसका बीटा वर्जन जारी किया गया है। कंपनी जल्द ही आम यूजर्स के लिए भी यह फीचर रोल आउट कर सकती है।

दूसरी डिवाइस में इंटरनेट कनेक्टिविटी

WhatsApp Companion Mode के जरिए दो फोन में वॉट्सएप चलाना चाहते हैं तो इसके लिए सिर्फ दूसरी डिवाइस में इंटरनेट कनेक्टिविटी होनी चाहिए। आपको दूसरी डिवाइस लिंक करने का ऑप्शन रजिस्ट्रेशन के समय मिलेगा। इस मोड से आपकी प्राइवेसी को भी कोई खतरा नहीं है। पर्सनल मैसेज और कॉल एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड रहेंगे। कोई भी आपको वॉट्सएप मैसेज करता है तो यह सभी लिंक्ड डिवाइस पर जाएगा।

ये रहे आसान सा तरीका

आप यदि वॉट्सएप के नए फीचर WhatsApp Companion Mode को आजमाना चाहते हैं तो सबसे पहले मैसेजिंग एप के बीटा वर्जन के लिए साइन अप करना होगा। ऐसे तो बीटा प्रोग्राम अक्सर फुल रहता है। फिर भी आप अपनी किस्मत आजमा सकते हैं। वॉट्सएप के बीटा वर्जन के लिए आपके बस गूगल प्ले पर जाकर वॉट्सएप सर्च करना है। इसे ओपन करने के बाद पेज पर बीटा प्रोग्राम लिखा हुआ दिखाई देगा। यदि मैसेज दिखाई पड़ता है- “Beta program is full,” तो इसका मतलब है कि आप इसके लिए साइन अप नहीं कर सकते।

ये आसान सी स्टेप 

  • स्टेप-1: अपने प्राइमरी मोबाइल फोन पर वॉट्सएप ओपन करें।
  • स्टेप- 2 : अब दाहिनें कोने पर दिख रहे 3 डॉट वाले ऑइकन पर क्लिक करे।
  • स्टेप-3 : अब “Linked devices” ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • स्टेप-4 : एक बार फिर से link a device” ऑप्शन पर क्लिक करें। इसके बाद एक क्यूआर कोड ओपन होगा।
  • स्टेप-5 : दूसरे फोन में भी यही स्टेप फॉलो करते हुए क्यूआर कोड ओपन करके प्राइमरी फोन के क्यूआर कोड से स्कैन करें।