रीता बहुगुणा का पुत्र मोह, टिकट नहीं तो इस्तीफा

लखनऊ। भाजपा सांसद रीता बहुगुणा जोशी का अपने पुत्र के प्रति इतना मोह है कि उन्होंने उन्हें टिकट नहीं देने के कारण अपना इस्तीफा देने तक की पेशकश कर दी है। रीता बीजेपी सांसद अपने पुत्र मयंक को लखनऊ कैंट से भाजपा से चुनावी मैदान में उतारना चाहती है और वह शीर्ष नेतृत्व से मयंक को टिकट देने की मांग कर रही है।

ALSO READ: Indore News: नए चना, तुअर में मांग, मावा महंगा, जानें भाव

पाटी सूत्रों ने बताया कि फिलहाल मयंक को टिकट देने के मामले में पार्टी की तरफ से कोई निर्णय नहीं लिया गया है लेकिन इसी बीच रीता ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड््डा को पत्र लिखकर यह कहा है कि वे अपने बेटे के लिए टिकट इसलिए चाहती है क्योंकि पार्टी ने एक परिवार से एक ही व्यक्ति को टिकट देने का फैसला लिया है लेकिन मयंक के बारे में पार्टी निर्णय नहीं ले रही है।

वे इस्तीफा इसलिए दे रही है

रीता ने भाजपा अध्यक्ष को लिखे पत्र में यह कहा है कि वे आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगी और इस संबंध में उन्होंने पहले से ही घोषणा कर रखी है। यदि उनके बेटे को टिकट नहंी दिया जाता है तो वे सांसद पद से त्याग पत्र देने के लिए तैयार है। यहां बता दें कि जिस सीट से रीता अपने पुत्र के लिए टिकट की मांग कर रही है वहां से लड़ने के लिए पहले से ही कई दावेदार मैदान में आ चुके है। लेकिन रीता का यह तर्क है कि मयंक बीते 2009 से ही राजनीति में सक्रिय है और वह चुनाव जीतकर लोगों की सेवा करेगा।