धर्मव्रत / त्यौहार

आज महेश नवमी पर भूल कर भी ना करें ये काम, रूठ जाएंगे महादेव

महेश नवमी ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि पर मनाई जाती है। हिन्दू पंचांग के अनुसार इस साल महेश नवमी 31 मई को मनाई जा रही है। इस नवमी पर भगवान भोलेनाथ और माता पार्वती की पूजा अर्चना की जाती है। लेकिन इस दिन आपको कई सारी सावधानियां भी बरतना होती है वरना महादेव रूठ जाते है। आज पूजा करने के लिए शुभ मुहूर्त है शाम 5 बजकर 36 मिनट है। लेकिन पूजा करने से पहले आप इन बातों का ध्यान रखें। तो चलिए जानते हैं इस नवमी पर आपको कौन कौन से काम नहीं करना चाहिए जिससे महादेव नाराज हो जाते हैं।

bholenath

इन 10 कामों को करने से बचे –

1 महेश नवमी पर महादेव को खुश करने के लिए आप काले रंग के कपड़े ना पहने। क्यों की इस दिन काला रंग पहनन अशुभ माना जाता है।

2 जो प्रसाद आप शिवलिंग पर चढ़ाते है उसे आपको ग्रहण नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे दुर्भाग्य आता है। साथ ही इससे धन की कमी होने लगती है और बीमारियां बढ़ने लगती है।

3 शिवलिंग पर इन चीज़ों को चढ़ाने से बचें –

  • आपको बता दे, शिवलिंग पर कभी भी तुलसी के पत्ते नहीं चढ़ाना चाहिए, वहीं दूध चढ़ाने से पहले यह ध्यान रखें कि पाश्चुरीकृत या पैकेट का दूध इस्तेमाल ना करें।
  • शिवलिंग पर ठंडा दूध ही चढ़ाना चाहिए। शिवलिंग पर अभिषेक हमेशा चांदी या कांसे के पात्र से ही करना चाहिए। स्टील, प्लास्टिक के बर्तनों का प्रयोग ना करें।

4  इसके अलावा भोलेनाथ को कभी भी केतकी और चंपा फूल नहीं चढ़ाना चाहिए। क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि इन फूलों को भोलेनाथ ने शापित किया था। केतकी का फूल सफेद होने के बावजूद भोलेनाथ की पूजा में नहीं चढ़ाना चाहिए।

5 इस दिन आपको मांस या मदिरा-पान का सेवन करने से बचना चाहिए।

6 शिव जी पर भूलकर भी टूटे हुए चावल नहीं चढ़ाना चाहिए। उन्हें हमेशा पुरे चाल यानि अक्षत चढ़ाना चाहिए।

7 इस मिश्रण का पंचामृत सबसे पहले चढ़ाना चाहिए – दूध, गंगाजल, केसर, शहद और जल से बना हुआ मिश्रण। जो लोग चार प्रहर की पूजा करते हैं उन्हें पहले प्रहर का अभिषेक जल, दूसरे प्रहर का अभिषेक दही, तीसरे प्रहर का अभिषेक घी और चौथे प्रहर का अभिषेक शहद से करना चाहिए।

8 महेश नवमी पर बेर जरूर अर्पित करें क्योंकि बेर को चिरकाल का प्रतीक माना जाता है।

9 महेश नवमी पर भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए चंदन का टीका लगा सकते हैं। शिवलिंग पर कभी भी कुमकुम का तिलक ना लगाएं।

10 इस दिन सुबह देर तक नहीं सोना चाहिए। व्रत नहीं है तो भी बिना स्नान किए भोजन ग्रहण नहीं करें।

Related posts
धर्मराशिफल / ज्योतिष शास्त्र

चंद्र ग्रहण के बाद सावन में खुलेगी इन 5 राशियों की किस्मत, होगा धन लाभ

आज चंद्र ग्रहण है आपको बता दे, ये साल का…
Read more
breaking newsscroll trendingtrendingधर्मराशिफल / ज्योतिष शास्त्र

राशिफल: धनु राशि वालों के संबंधों में होगा सुधार

मेष – पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा।…
Read more
धर्मव्रत / त्यौहार

Guru Purnima: जरूर करें गुरु पूर्णिमा की ये आरती, जानें महत्त्व

हिन्दू मान्यताओं के अनुसार, गुरु…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group