धर्मव्रत / त्यौहार

मासिक शिवरात्रि पर इस शुभ मुहूर्त में ऐसे करें शिव जी को प्रसन्न, सभी मनोकामनाएं होगी पूर्ण

आज मासिक शिवरात्रि है। इस दिन भक्त भगवान शिव की पूजा आराधना करते हैं। साथ ही इस दिन व्रत भी रखा जाता है। जैसा की आप सभी को पता है आज सोमवार है सोमवार को भगवान शिव का दिन माना जाता है। ऐसे में भक्त गण इस शिव जी की पूजा करते हैं और इसका काफी ज्यादा महत्त्व हिन्दू धर्म में माना गया है।

मान्यताओं के अनुसार, इस शिवरात्रि के दिन भोलेनाथ की पूरी श्रद्धा भक्ति से पूजा और व्रत रखने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है। साथ ही भोलेनाथ की कृपा अपने भक्तों पर बनी रहती है। आज हम आपको बताने जा रहे है आज मासिक शिवरात्रि पर आप भगवान भोलेनाथ को कैसे खुश कर सकते हैं साथ ही यदि आप सच्चे मन से प्रार्थना और व्रत करेंगे तो आपकी सभी इच्छाएं पूर्ण होगी। तो चलिए जानते हैं –

bholenath

आपको बता दे, यदि अववाहित कन्याएं इस व्रत को पूरी श्रद्धा के साथ करती हैं तो उन्हें सुयोग्य और इच्छित जीवनसाथी की प्राप्ति होती है। हिन्दू मान्यताओं के अनुसार, शिव जी का व्रत और पूजा करने से सभी विवाह सम्बंधित परेशानियां ख़त्म हो जाती है। इसलिए ऐसा कहा जाता है यदि अववाहित कन्याएं शिव जी की सच्चे मन से पूजा और व्रत करेगी तो उन्हें मनचाहा वर मिलेगा।

पूजा करने का शुभ मुहूर्त –

मासिक शिवरात्रि का शुभ मुहूर्त आज 17 अगस्त की रात 12 बजकर 4 मिनट से लेकर 18 अगस्त को 12 बजकर 48 मिनट तक है।

इस विधि से करें भगवान शिव की पूजा –

मासिक शिवरात्रि पर भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए सुबह जल्दी उठकर स्नान करने के बाद स्वच्छ कपड़े पहन लें। उसके बाद पूजाघर की साफ सफाई करें। फिर शिवलिंग का रुद्राभिषेक करें। मान्यताओं के अनुसार, रुद्राभिषेक से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं। आपको बता दे, रुद्राभिषेक में शिवलिंग पर गाय का दूध, बेलपत्र, धतूरा और श्रीफल आदि अर्पित करें। भगवान शिव पर धूप, अगरबत्ती, दीप, फल और फूल अर्पित करें. ये भगवान शिव जी को अत्यंत प्रिय वस्तुएं हैं। पूजा के बाद शिव पुराण या शिव चालीसा का पाठ करें।