चारधाम यात्रा में बना यात्रियों का रिकॉर्ड, 4 लाख तक पहुंची संख्या

इस वर्ष कोरोना काल (Corona) में यात्रा देर में शुरू होने के बावजूद उत्तराखंड चारधाम (Uttrakhand Char dham Yatra ) आने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या रिकार्ड चार लाख पहुंची है।

Char Dham Yatra

इस वर्ष कोरोना काल (Corona) में यात्रा देर में शुरू होने के बावजूद उत्तराखंड चारधाम (Uttrakhand Char dham Yatra ) आने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या रिकार्ड चार लाख पहुंची है। जिसमें से दो लाख से अधिक तीर्थयात्री आज तक केदारनाथ धाम पहुंच गये है। चारों धामों में यात्रा जारी है। सड़क मार्ग सुचारू है। केदारनाथ हेतु हेलीकॉप्टर चल रहे है।प्रधानमंत्री माननीय नरेन्द्र मोदी जी के केदारनाथ धाम दर्शन कार्यक्रम हेतु प्रदेश सरकार, जिला प्रशासन सहित देवस्थानम बोर्ड की तैयारियां चल रही।बदरीनाथ धाम – केदारनाथ धाम, गंगोत्री- यमुनोत्री धाम में आज मौसम सामान्य। तापमान औसत से कम। केदारनाथ पैदल मार्ग से आवाजाही जारी है।

बदरीनाथ-केदारनाथ में गंगोत्री-यमुनोत्री में मौसम सामान्य हल्की घूप।तीर्थयात्री उत्साहित। उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने‌ जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया है कि अभी तक रिकार्ड चार लाख से अधिक तीर्थयात्री उत्तराखण्ड चारधाम पहुंच गये है। जिसमें से आधे से अधिक केदारनाथ धाम पहुंचे है। केदारनाथ हेतु पैदल मार्ग सुचारू है हैलीकाप्टर सेवा जारी है। ऋषिकेश चारधाम यात्रा बस टर्मिनल तथा हरिद्वार बस अड्डे से तीर्थयात्री चारधाम को प्रस्थान कर रहे हैं।

ऋषिकेश यात्रा बस टर्मिनल परिसर में यात्रा प्रशासन, पुलिस, पर्यटन, देवस्थानम, परिवहन, नगरनिगम, संयुक्त रोटेशन यात्रा हेल्प डेस्क एवं कोविड जांच केंद्र चल रहा। तृतीय केदार तुंगनाथ जी के कपाट शीतकाल हेतु कल 30 अक्टूबर को बंद हो गये आज उत्सव डोली वनतोली होते हुए भनकुन क्षेत्र में रात्रि प्रवास करेगी कल 1 नवंबर को मारकंडेय मंदिर मक्कूमठ पहुंचेगी।