Home देश बाग़ी विधायकों को आज मिल सकता है नोटिस, Maharshtra विधानसभा ने स्वीकार...

बाग़ी विधायकों को आज मिल सकता है नोटिस, Maharshtra विधानसभा ने स्वीकार की याचिका

महाराष्ट्र के बाग़ी विधायकों को आज मिल सकता है नोटिस ,महाराष्ट्र विधानसभा ने स्वीकार की शिवसेना की याचिका , बाग़ी गुट कर रहा है विधानसभा के डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल को हटाने के प्रयास ,सीएम उद्धव ठाकरे ने बागी विधायकों पर विश्वासघात का लगाया आरोप

शिवसेना (Shivsena) ने अपने 16 बाग़ी विधायकों की सदस्यता रद्द करने की मांग करते हुए महाराष्ट्र विधानसभा में याचिका दायर की थी ,जिसे महाराष्ट्र विधानसभा के उपाध्यक्ष नरहरि जिरवाल (Narhari Jirwal) ने स्वीकार कर लिया है। इस याचिका के संदर्भ में विधानसभा उपाध्यक्ष शनिवार को शिवसेना के 16 बाग़ी विधायकों को नोटिस जारी कर सकते हैं ,जिसका कि इन बागी विधायकों को 48 घन्टे के भीतर जवाब देना होगा। जानकारी के अनुसार बाग़ी विधायकों के निलंबन से जुड़े इस मामले पर 27 जून को सुनवाई हो सकती है।

बाग़ी गुट कर रहा है विधानसभा के डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल को हटाने के प्रयास

सूत्रों के अनुसार एकनाथ शिंदे गुट के बाग़ी विधायकों द्वारा महाराष्ट्र विधानसभा के डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल को हटाने के प्रयास जारी हैं जानकारी के अनुसार बागी गुट के 46 विधायकों के हस्ताक्षर से यह प्रस्ताव तैयार करने की कार्रवाई की जा रही है। एकनाथ शिंदे सहित पुरे बागी गुट के द्वारा लगातार अपना विश्वास प्रदर्शन जारी है ,जिससे उद्धव ठाकरे सरकार को राहत मिलती नहीं दिख रही है ।

Also Read – Maharashtra Political Crisis: क्या रद्द की जाएगी 16 बागी MLA की सदस्यता? ली जा रही कानूनी राय

मेरा अपमान कीजिये, लेकिन परिवार का नहीं. मैं सत्ता का लालची नहीं हूं – उद्धव ठाकरे

इससे पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे ने बागी विधायकों पर विश्वासघात का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में ये लोग शिवसेना के टिकट पर जीते और बदले में इन्होने हमारे साथ विश्वासघात किया।उद्धव ठाकरे ने कहा कि कांग्रेस और एनसीपी आज हमारे साथ है परन्तु हमारे ही लोगों ने हमें धोखा दिया है। अंत में उन्होंने भावुक होते हुए कहा कि, “मेरा अपमान कीजिये, लेकिन परिवार का नहीं. मैं सत्ता का लालची नहीं हूं.”

Also Read – द्रौपदी मुर्मू ने सोनिया गांधी, शरद पवार और ममता बनर्जी को लगाया फोन, राष्ट्रपति चुनाव में मांगा समर्थन

Exit mobile version