राजस्थान में गोलीकांड का मामला सामने आया है। बीते शुक्रवार को धौलपुर जिले में दो बदमाशों ने एक लूट की वारदात को अंजाम दिया। इस दौरान आरोपियों ने युवक को गोली मरने के बाद बस पर अंधाधुंध गोलियां बरसाई।

घटना उस वक्त की है जब दिहौली थाना इलाके के हरकंद का पुरा गांव का रहने वाला ऋषिकेश अपनी बहन का लगन-टीका लेकर परिजन और ग्रामीणों के साथ उत्तर प्रदेश के फतेहाबाद जा रहा था। परिजन और ग्रामीण बस में थे, जबकि वह एक ग्रामीण के साथ मोटरसाइकिल से जा रहा था।

गोली मारकर केश और जेवरात छीने

इसी दौरान राजाखेड़ा थाना इलाके के सामलियापुरा गांव के पास मोटरसाइकिल सवार दो बदमाशों ने ऋषिकेश के पैर में गोली मार दी। इससे वह घायल होकर गिर गया। इसके बाद बदमाशों ने ऋषिकेश से दो अंगूठी, सोने की चेन और सात लाख रुपये से भरा बैग छीन कर भागे और आगे जा रही बस पर भी फायरिंग की। बस में सवार लोगों ने दोनों बदमाशों को पहचान कर पुलिस को सूचना दी थी।

DSP बचे बाल-बाल

एसपी धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि, सूचना पर पुलिस उप अधीक्षक मनियां दीपक खंडेलवाल ने पुलिस बल के साथ इलाके की नाकाबंदी की। बदमाशों ने खुद को घिरा देखकर टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। इसी दौरान एक गोली पुलिस उप अधीक्षक को लगी, हालांकि, बुलेट प्रूफ जैकेट पहने होने के कारण वो बच गए।

बदमाशों के पैर में गोली मारी

इसके बाद बदमशों ने पुलिस की दो गाड़ियों पर फायरिंग शुरू की। पुलिस उप अधीक्षक ने जबावी फायरिंग करते हुए दोनों बदमाशों के पैर में गोली मारी और दोनों को गिरफ्त में लेकर अस्पताल में भर्ती कराया। बदमाशों का उपचार चल रहा हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस और बदमाशों की तरफ से करीब 25 राउंड फायरिंग हुई।

पुलिस अधीक्षक धौलपुर धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि बदमाशों और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ में दोनों तरफ से करीब 25 राउंड फायरिंग हुई है। पुलिस ने बदमाश नीरज के पास से बारह बोर की एक बंदूक और हिस्ट्रीशीटर विष्णु भगत के पास से 315 बोर का तमंचा व कारतूस बरामद किए हैं। बदमाश विष्णु इलाके का हिस्ट्रीशीटर है। जानकारी में पता चला है कि पीड़ित पक्ष और बदमाशों के बीच पुरानी रंजिश है। फिलहाल, मामले की जांच की जा रही है।