राजस्थान विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी ही होंगे चेहरा- अमित शाह ने दी नसीहत

मोदी सरकार की जन नीतियों को राजस्थान की जनता के बीच ले जाना होगा। राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के अंत में होने वाले हैं और ऐसे में चुनाव से पहले सीएम फेस को लेकर प्रदेश भाजपा नेताओं में आपस खींचतान जमकर चल रही है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जयपुर के अपने एकदिवसीय दौरे के दौरान चंद पलों की मुलाकात में ही राजस्थान भाजपा नेताओं को गुटबाजी से दूर रहकर एकजुट रहने की नसीहत दी है। सीएम फेस के लिए जारी खींचतान के बीच अमित शाह ने स्पष्ट रूप से कह दिया है कि प्रदेश के चेहरों के आधार पर चुनाव नहीं लड़ा जाएगा। विधानसभा चुनाव 2023 में पीएम मोदी ही चेहरा होंगे।

आपको बता दें कि अमित शाह ने किसी नेता का नाम नहीं लिया और गुटबाजी पर लगाम लगाने के साथ ही पार्टी के कार्यक्रमों आंदोलनों में भी कांग्रेस के खिलाफ एकजुट होकर काम करने का संदेश दिया है। अमित शाह ने साफ तौर पर कहा है कि मोदी सरकार की जन नीतियों को राजस्थान की जनता के बीच ले जाना होगा। राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के अंत में होने वाले हैं और ऐसे में चुनाव से पहले सीएम फेस को लेकर प्रदेश भाजपा नेताओं में आपस खींचतान जमकर चल रही है।

Must Read- गोवा में छाया राजनीति संकट, कांग्रेस के 10 विधायक थाम सकते है बीजेपी का दामन

प्रदेश भाजपा में चल रही है अंदरूनी कलह को थामने के लिए अमित शाह ने एकजुटता का संदेश दिया है। अमित शाह ने सभी नेताओं को अनुशासन में रहकर काम करने के लिए भी कहा है। पार्टी विरोधी गतिविधि किसी भी कीमत पर किसी के भी द्वारा बर्दाश्त नहीं की जाएगी और इसीलिए अमित शाह ने सभी को अनुशासन में रहने के लिए कहा है।

आपको बता दें कि राजस्थान बीजेपी में अंदरूनी कलह जोर पकड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। क्योंकि एक तरफ वसुंधरा राजे के सीएम बनने की मांग को लेकर केंद्रीय नेतृत्व पर लगातार दबाव भी बन रहा है और राष्ट्रीय नेतृत्व सीएम फेस को लेकर अपना नजरिया भी साफ कर चुके हैं कि चुनाव पीएम मोदी के चेहरे और पार्टी के चुनाव चिन्ह कमल के निशान पर ही लड़ा जाएगा।