ऑपरेशन प्रतिकार : इंदौर पुलिस ने स्कूली बच्चों को बताएं नशे के दुष्परिणाम, दिया सुरक्षा का वचन

0

इंदौर : पुलिस महानिदेशक मध्यप्रदेश वीके सिंह सर के मार्गदर्शन में और आदरणीय अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक नारकोटिक्स अजय शर्मा सर के निर्देशन में पूरे प्रदेश में चलाए जा रहे ऑपरेशन प्रतिकार के अंतर्गत आज दिनांक 22 अगस्त 2019 को एडिशनल एसपी नारकोटिक्स विंग दिलीप सोनी द्वारा मुसाखेड़ी इंदौर स्थित शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में बच्चों को नशे के दुष्परिणाम से परिचित कराया और नशे से दूर रहने के संबंध में प्रशिक्षण दिया गया ।

इस दौरान विद्यालय के बच्चों के हाथों से बनाई गई सुंदर राखियां उन्होंने पुलिस अधिकारियों की कलाइयों पर सजाई और पुलिस अधिकारियों ने उन्हें वचन दिया कि वह सदा उनकी सुरक्षा के लिए साथ हैं । दिलीप सोनी ने बताया कि बाहरी सुरक्षा तो पुलिस कर सकती है लेकिन आंतरिक सुरक्षा आपको स्वयं करनी होगी और उसमें सबसे बड़ा शत्रु है नशा।

इस प्रकार उन्होंने बच्चों को नशे के दुश्मन को पहचानने और उससे दूर रहने की सलाह दी । साथ ही उनको यह शपथ भी दिलाई कि वे स्वयं नशे से दूर रहेंगे और परिवार में भी किसी को नशा नहीं करने देंगे ।

उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय अजय बाजपेई द्वारा बच्चों में अनुशासन के महत्व को बताते हुए उन सभी को अच्छे भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी और खूब पढ़ो खूब बढ़ो कहते हुए आगे बढ़ते रहने की प्रेरणा दी ।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय मनीषा पाठक सोनी स्टूडेंट पुलिस कैडेट की नोडल अधिकारी भी हैं, ने इंदौर पुलिस द्वारा चलाए जा रहे सुरक्षित बचपन अभियान के अंतर्गत बच्चों को अपराध के प्रति जागरूक करते हुए यह बताया कि इंदौर पुलिस द्वारा उन सभी के लिए एक कॉमिक बुक का प्रकाशन किया गया है जो शीघ्र ही विद्यालय को उपलब्ध कराई जाएंगी इसमें यह बताया गया है कि बच्चों को किस तरह से लोग अपराध के जाल में फंसाते हैं और यदि कभी बच्चे अपने आपको ऐसी स्थिति में पाएं तो किस प्रकार कहां किससे संपर्क करें यह जानकारी भी इस बुक में दी गई है । इस अवसर पर रचना जौहरी ने संवाद कौशल विषय पर रोचक व्याख्यान भी दिया गया।

इस कार्यक्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय इंदौर मनीषा पाठक सोनी, उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय अजय बाजपेई, मीडिया से रचना जौहरी, अभिषेक सिसोदिया, स्कूल की प्रिंसिपल श्रीवास और स्टूडेंट पुलिस कैडेट की कोऑर्डिनेटर राशि परिहार और बड़ी संख्या में स्कूली छात्र-छात्राएं उपस्थित थे ।