शुगर को जड़ से मिटाती है प्याज की चाय, इतनी बीमारियों में भी हैं लाभकारी

इसमें क्वेरसेटिन नाम का पिग्मेंट होता है, जिसके कई सारे फायदे हैं। ये ब्‍लड क्‍लॉट बनने से रोकता है, जिससे हाइपरटेंशन का खतरा कम होता है।

0
onion

सुबह सुबह उठते ही सबको चाय पिने की आदत होती हैं। अगर चाय न मिले तो दिन अधूरा सा लगता हैं। वैसे तो चाय पीने के शौकीन चाय के नये-नये फ्लेवर ट्राई करते रहते हैं। लेकिन आज हम जिस चाय के बारे में बताने जा रहे है अगर अपने वो ट्राय कर ली तो अभी शुगर तो खत्म होगी ही साथ ही साथ कई बीमारियों से भी बच सकते हैं। बता दे, जैसे ग्रीन टी, ब्‍लैक टी और दालचीनी टी आदि होती है उस ही तरह प्‍याज की भी चाय होती है।

लेकिन अगर आपको शुगर की बीमारी है तो आप चाय को अवॉयड ही करते हैं। ऐसे में आपको प्याज की चाय फायदेमंद है। दरअसल, प्याज के रस का इस्तेमाल बालों के टूटने की समस्या होने पर अक्सर लोग लगाते हैं। इसके अलावा मधुमेह, उच्च रक्तचाप, नींद न आने की बीमारी में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। तो क्या कभी आपने प्याज की चाय पी है या सुना है। आज इसी की विधि और इसके फायदे बताने जा रहे हैं।

इन बीमारियों में मिलती हैं राहत –

  • प्याज से बनी चाय का सेवन रोज करने से हाइपरटेंशन का खतरा कम होता है साथ ही में यह वजन को कम करने में मददगार साबित होती है।
  • प्याज की चाय ग्लूकोज के स्तर को बेहतर बनाती है जिससे इन्सुलिन रेजिटेंट को बढ़ाकर मधुमेह के खतरा भी का होता है।
  • प्याज में विटामिन सी के अलावा ऐसे कई औषधिय गुण पाए जाते जो बाहरी सक्रंमण को दूर करके हमें सर्दी-जुकाम से बचाता है।
  • इसका सेवन करने से शारीरिक थकान तो दूर होती ही है साथ ही में नींद भी अच्छी आती है।

इससे बनती है प्याज की चाय –
प्याज की चाय प्याज के छिलके से बनती है। सबसे पहले एक बर्तन में 2 कप पानी लें। फिर उसमें प्‍याज छीलकर उसके छोटे-छोटे टुकड़े कर के डालें। इसके बाद जब यह पानी उबल कर 1 कप रह जाए तब गैस बंद कर दें। फिर पानी को छान कर गुनगुना कर लें और उसमें 4 बूंद नींबू का रस डाल कर 1 ग्रीन टी बैग डालें। 5 मिनट के बाद टी बैग निकाल लें और अपनी इच्‍छा अनुसार शहद मिला कर इस फायदेमंद चाय का आनंद लें। इसमें क्वेरसेटिन नाम का पिग्मेंट होता है, जिसके कई सारे फायदे हैं। ये ब्‍लड क्‍लॉट बनने से रोकता है, जिससे हाइपरटेंशन का खतरा कम होता है।