CUET के जरिए अब मेडिकल और इंजीनियरिंग में भी मिलेगा प्रवेश, यूजीसी ने बनाया नया प्लान

यूजीसी ने अब मेडिकल और इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में प्रवेश देने के लिए अलग-अलग एग्जाम की जगह CUET के जरिए प्रवेश देने की योजना बनाई है.

CUET: कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट देश की एजुकेशन पॉलिसी का खास हिस्सा बन चुका है. अब यूनिवर्सिटी में मेरिट लिस्ट या फिर एंट्रेंस टेस्ट की जगह इस एग्जाम में आए नंबरों के हिसाब से एडमिशन दिया जाता है. स्टूडेंट अभी इस एग्जाम की प्रक्रिया को समझ ही रहे थे कि अब यूजीसी ने इसे मेडिकल और इंजीनियरिंग परीक्षाओं के साथ मर्ज करने का प्रस्ताव जारी किया है.

यूजीसी की ओर से मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश के लिए भी CUET कराने की तैयारी कर ली गई है. इस प्रस्ताव के मुताबिक मैथ फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी के लिए उपस्थित होने की जगह विद्यार्थी एक बार परीक्षा दे सकते हैं.

Must Read- इंदौर फिर से पकड़ेगा रफ़्तार, बंगाली ब्रिज आज से होगा चालू

एक ही परीक्षा के जरिए विद्यार्थी विभिन्न क्षेत्रों के लिए योग्य हो सकेंगे. हायर एजुकेशन रेगुलेटरी आम सहमति को लेकर स्केट होल्डर से विचार विमर्श करने के लिए एक समिति भी तैयार की जा रही है. अलग-अलग विश्वविद्यालयों और तकनीकी तथा मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के लिए एक ही परीक्षा लेने की तैयारियां जोर शोर से की जा रही है. यूजीसी का मानना है कि इस तरह से परीक्षार्थियों को एक ही परीक्षा के अंतर्गत कई सारे विषयों के बीच आवेदन करने का अवसर मिल जाएगा.