मध्य प्रदेश (MP) के साथ ही देश के विभिन्न राज्यों में अब मौसम में परिवर्तन का दौर शुरू हो चुका है। देश के पर्वतीय राज्यों में जहाँ बर्फबारी की शुरूआत हो चुकी है, वहीं देश के अन्य राज्यों में भी ठंड ने दस्तक देना शुरू कर दिया है। बारिश की गतिविधि देश के अधिकतम राज्यों से समाप्ति की कगार पर है, जबकि ओडिसा में चक्रवात का निर्माण साइक्लोन में परिवर्तित होने की सम्भवना भी मौसम विभाग के द्वारा जताई जा रही है। कुल मिलाकर देशभर के मौसम की बाद करें तो एक मिलीजुली स्थिति देश भर के विभिन्न राज्यों के मौसम को देखते हुए निर्मित हो रही है। आइए जानते हैं मौसम विभाग की राय।

मध्य प्रदेश का मौसम

भोपाल मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के अधिकतम जिलों में ठंड का शुरूआती अहसास महसूस किया जाने लगा है। प्रदेश की व्यवसायिक राजधानी इंदौर सहित राजधानी के अधिकतम जिलों में कल रात से मौसम में हल्की ठिठुरन महसूस की जा रही है। मौसम विभाग के अनुसार मध्य प्रदेश के मौसम में इस हफ्ते इसी प्रकार की शुरुआती ठंड ही महसूस की जाएगी, जबकि अगले हफ्ते के बाद उत्तरी इलाकों से आने वाली ठंडी तेज हवाओं का असर मध्य प्रदेश के अधिकतम जिलों में देखा जा सकता है।

Also Read – उपचुनाव में सपा ने आसिम रज़ा को बनाया उम्मीद्वार, 5 दिसंबर को होगी वोटिंग

अन्य राज्यों के मौसम का हाल

IMD के अनुसार तमिलनाडु, कर्नाटक,महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश , दक्षिण छत्तीसगढ़ लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से सामान्य बारिश के साथ कहीं कहीं भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार ओडिसा में जहाँ एक और चक्रवात के साइक्लोन में परिवर्तित होने के संकेत मिल रहे हैं, वहीं फिलहाल वहां भारी बारिश के संकेत मौसम विभाग ने नहीं दी है, हालांकि सामान्य बारिश की संभावना मौसम विभाग के द्वारा जताई गई है।

पर्वतीय राज्यों में शुरू हुई बर्फबारी

देश के पर्वतीय राज्यों जम्मूकश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की बर्फबारी की शुरुआत हो चुकी है। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले 48 घंटों में हिमाचल प्रदेश में सर्वाधिक बर्फबारी की सम्भवना निर्मित हो रही है। साथ ही इन तीनों राज्यों में कुछ एक स्थानों पर हल्की से सामान्य बारिश भी दर्ज की जा सकती है।