मध्य भारत की सर्दियों में लगातार मध्यप्रदेश का तापमान तेजी से गिरता जा रहा है। कई इलाकों में शीतलहर जैसे हालात बन रहे हैं। बीते दिन और रात में ग्वालियर, शहडोल, जबलपुर, सागर और भोपाल में सबसे ज़्यादा ठंड देखें को मिली है। हालांकि, इस दौरान बाकी प्रदेश का मौसम सामान्य रहा। वहां कोई खास परिवर्तन नहीं हुआ है। प्रदेश में सबसे कम तापमान पचमढ़ी में 6.4 डिग्री और अधिक तापमान खरगोन में 30.5 डिग्री था।

लगातार गिर रहा तापमान

मौसम विभाग ने बताया कि 25 नवंबर यानि आज से कई जिलों के तापमान में गिरावट होगी। इसके साथ ही शीतलहर का भी अलर्ट जारी किया है। विभाग ने बताया कि आगे के दिनों में मध्य प्रदेश में शीतलहर शुरू हो जाएगी और ठंड बढ़ जाएगी। दरअसल, पहाड़ो पर हो रही बर्फबारी के बाद से मैदानी इलाकों में मौसम तेजी से बदल रहा है। इसके अलावा आज भोपाल के आसमान में धुंध छाए रहने का अनुमान लगाया है। इंदौर में आज न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम 26 डिग्री सेल्सियस रहने का अंदाज़ा लगाया है।

Also Read – MP में इंटरनेशनल बास्केटबॉल खिलाड़ी ने की आत्महत्या, भाई बना मौत की वजह

दिसंबर के शुरुआत में शुरू होगी शीतलहर

मौसम विभाग ने बताया कि दिसंबर के शुरुआत से ही कई जिलों में शीतलहर शुरू हो जाएगी। 15 दिसंबर के बाद भोपाल सहित अन्य जिलों में शीतलहर शुरू हो जाएगी और साथ ही कड़ाके की ठंड भी पड़ सकती है।