35ए से छेड़छाड़ बारूद को छूने के बराबर है: महबूबा मुफ्ती

महबूबा ने कहा कि 35ए के साथ छेड़छाड़ करना बारूद को हाथ लगाने के बराबर होगा। उन्होंने कहा, जो हाथ 35ए के साथ छेड़छाड़ करने के लिए उठेंगे, वो हाथ ही नहीं वो सारा जिस्म जल के राख हो जाएगा।

0
188
mehbooba mufti

श्रीनगर: महबूबा मुफ़्ती की पार्टी पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी आज अपने 20वां स्थापना दिवस बना रहा है। इस मौके पर महबूबा मुफ़्ती ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। महबूबा ने कहा कि 35ए के साथ छेड़छाड़ करना बारूद को हाथ लगाने के बराबर होगा। उन्होंने कहा, जो हाथ 35ए के साथ छेड़छाड़ करने के लिए उठेंगे, वो हाथ ही नहीं वो सारा जिस्म जल के राख हो जाएगा।

इतना ही नहीं महबूबा ने आगे कहा कि हम अपनी आखिरी सांस तक कश्मीर की रक्षा करेंगे। पीडीपी कभी समाप्त नहीं होगी। हमें एक बड़ी लड़ाई लड़ने के लिए तैयार रहने की जरुरत है। चुनाव आते हैं और चले जाते हैं लेकिन असली लड़ाई जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे के लिए लड़ना है। हम राज्य की स्थिति को बचाने के लिए किसी भी हद तक जाएंगे।

महबूबा मुफ्ती ने कहा, ‘हमने केंद्र सरकार कहा कि दिनेश्वर शर्मा को मध्यस्थ बनाया जाए. हमने रमजान में संघर्ष विराम सुनिश्चित कराया। हमें अच्छे रिजल्ट की उम्मीद थी लेकिन दूसरे पक्ष से ऐसा कुछ नहीं हुआ। ट्रंप कहते हैं कि कश्मीर समस्या का समाधान निकलेगा, इसलिए इमरान खान और नरेंद्र मोदी भी कह रहे हैं। मुफ्ती सईद भी अमन चैन और वार्ता चाहते थे।’

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि ‘अपने पास जो है उसे कश्मीरियों को रक्षा करनी चाहिए. हमारे पास संविधान है, हमारे पास ऐसा दर्जा है जिससे बाहरी लोग यहां प्रॉपर्टी नहीं खरीद सकते। आज हालत ऐसी है कि घाटी में डर का माहौल है, जम्मू कश्मीर बैंक को समाप्त कर दिया गया।धीरे धीरे वे सबकुछ खत्म करना चाहते हैं। हम दिल्ली से कहना चाहते हैं कि 35ए से छेड़छाड़ बारूद को छूने जैसा है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here