लक्ष्य सेन पहली बार टॉप -10 में, 9वीं विश्व रैंकिंग

भारत के लक्ष्य सेन विश्व नंबर एक के लक्ष्य के लिए पहली बार विश्व टाप-10 में जगह बनाने में सफल हो गए हैं, 22 मार्च को विश्व बैडमिंटन महासंघ द्वारा जारी नई विश्व रैंकिंग में लक्ष्य सेन दो स्थान का सुधार कर नवें स्थान पर आ गए हैं

भारत के लक्ष्य सेन(lakshya Sen) विश्व नंबर एक के लक्ष्य के लिए पहली बार विश्व टॉप-10 में जगह बनाने में सफल हो गए हैं, 22 मार्च को विश्व बैडमिंटन महासंघ द्वारा जारी नई विश्व रैंकिंग में लक्ष्य सेन दो स्थान का सुधार कर नवें स्थान पर आ गए हैं आल इंग्लैंड उपविजेता बनने साल पहले वे 11वें स्थान पर थे, सात्विक साईंराज रैंकीरेड्डी और चिराग, साइना नेहवाल,आकर्षी कश्यप,ट्रेसा जोली और गायत्री गोपीचंद, ईशान भटनागर और तनिषा क्रास्टो की विश्व रैंकिंग में भी सुधार हुआ हैं,भारत के 4 खिलाडी पी वी सिंधु, सात्विक साईंराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी एवं लक्ष्य सेन विश्व के टाप-10में हैं।

सात्विक साईंराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की पुरुष युगल के आठवीं से सातवीं रैंकिंग हो गई है जो उनकी सर्वश्रेष्ठ है, इस स्थान पर वे दोबारा आए हैं 20 वर्षीय लक्ष्य सेन दिसम्बर से चार माह में लगातार पांच अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं के सेमीफाइनल में खेले हैं, विश्व स्पर्धा में कांस्य के बाद जनवरी में योनेक्स सनराइज भारतीय खुली सुपर-500स्पर्धा (नईदिल्ली) जीती, इस माह जर्मन खुली सुपर-300और अब प्रतिष्ठित योनेक्स आल इंग्लैंड सुपर -1,000 स्पर्धा में उपविजेता रहे हैं, इस उभरती भारतीय सनसनी को अब भावी विश्व नंबर एक की संभावना में देखा जाने लगा हैं,
लक्ष्य सेन कै बाद पुरुष एकल में विश्व उपविजेता किदांबी श्रीकांत 12वें, बी साईंप्रणीत 19वें,एच एस प्रणोय 26वें, समीर वर्मा 27वें, पारुपल्ली कश्यप 37वेंऔर सौरभ वर्मा 38वें स्थान पर हैं।

Read More : जानिए कैसा रहेगा आज का आपका दिन, पढ़िए राशिफल

भारत के 16 खिलाडी टाप-100 में हैं, लक्ष्य के बड़े भाई चिराग सेन 90वें स्थान पर हैं, साइना नेहवाल और आकर्षी कश्यप की विश्व रैंकिंग में भी सुधार पूर्व विश्व विजेता पी वी सिंधु महिला एकल में सातवें स्थान पर बनी हुई हैं, पूर्व विश्व उपविजेता और पूर्व आल इंग्लैंड उपविजेता 32वर्षीय साइना नेहवाल दो स्थान का सुधार कर 25वें से 23वें स्थान पर आ गई है, वे स्विस खुली स्पर्धा में बेहतर खेलकर विश्व रैंकिंग में और सुधार कर सकती हैं, आकर्षी कश्यप ने भी दो स्थान का सुधार कर 53वें से 51वें स्थान पर आ गई हैं, मालविका बंसोड़ 61वेंऔर अश्मिता चालिया 62वें स्थान पर हैं, ये चारों स्विस खुली स्पर्धा में खेल रही हैं।

अनुपमा उपाध्याय की 75वीं रैंकिंग हैं, महिला एकल में न भारत की 9 खिलाडी टाप-100 में हैं, सात्विक और चिराग विश्व नंबर सात हुए भारतीय खुली सुपर-500 स्पर्धा विजेता सात्विक साईंराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी पुरुष युगल में आठवें है सातवें स्थान पर आए, यह भारतीय खिलाडियों की इस समय विश्व में सबसे बेहतर रैंकिंग हैं, पी वी सिंधु भी सातवें स्थान पर हैं, ध्रुव कपिला और एम आर अर्जुन 41वें,मनु अत्री और बी सुमीत रेड्डी 43वें एवं कृष्ण प्रसाद गर्ग और विष्णुवर्धन गोड पंजला 45वें स्थान पर हैं, कृष्ण प्रसाद और विष्णुवर्धन की रैंकिग में एक स्थान कि सुधार हुआ हैं, ईशान भटनागर और साईंप्रतीक 81वें स्थान पर हैं।

Read More : Indore GER: धूम-धाम से निकली गेर, शामिल हुए कैलाश विजयवर्गीय 

ट्रेसा जोली और गायत्री गोपीचंद विश्व नंबर 34 आल इंग्लैंड सेमीफाइनल खेलने से ट्रेसा जोली और गायत्री गोपीचंद की विश्व रैंकिंग में 12स्थानों का सुधार हुआ है, वे महिला युगल में विश्व नंबर 46से 34वें स्थान पर आ गई हैं, अश्विनी पोनप्पा और सिकी रेड्डी 19वें से 20वीं रैंकिंग जोड़ी हो गई, ईशान भटनागर और तनिषा क्रास्टो ने मिश्रित युगल की विश्व रैंकिंग में 10 स्थानों का सुधार किया हैं उनकी रैंकिग 75वें से 65वें स्थान पर हो गई हैं, वैंकट गौरव प्रसाद और जुही देवांगन 54वें एवं एम आर अर्जुन और ट्रेसा जोली 125 वें स्थान पर हैं।

सात्विक साईंराज रैंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा 26वें स्थान पर हैं, लेकिन वे अब मिश्रित युगल में नहीं खेल रहे हैं, सिकी रेड्डी अब साईं प्रतीक के साथ और ध्रुव कपिला, गायत्री गोपीचंद के साथ मिश्रित युगल में खेल रहे हैं
लक्ष्य सेन सफलताओं की नई ऊंचाइयों को छुएंगा… प्रतिष्ठित आल इंग्लैंड की सफलता और 21साल बाद किसी भारतीय पुरुष खिलाड़ी के फाइनल खेलने पर लक्ष्य सेन को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बधाई दी है, नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट करते हुए विश्वास जताया हैं कि लक्ष्य सफलताओं की नई ऊंचाइयों को छुएंगे।

भारतीय बैडमिंटन संगठन महासचिव अजय सिंघानिया ने स्मैश को कहा -‘लक्ष्य ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया हैं,यह आनेवाले समय में बहुत ही अच्छा खेल दिखाऊंगा और भारत को हर जगह विजय दिलाएंगा, लक्ष्य को बधाई,” भारतीय बैडमिंटन संगठन के अध्यक्ष, असम के मुख्यमंत्री हिमान्ता बिस्वा सरमा , भारतीय बैडमिंटन संगठन के नए महासचिव संजय मिश्रा और नए कोषाध्यक्ष अरुण लखानी ने भी लक्ष्य को बधाई दी है।

मौजूदा उपाध्यक्ष अरुण लखानी ने स्मैश को  कहा “लक्ष्य ने युवा उम्र में ही शानदार उपलब्धि हासिल की हैं,उसका प्रदर्शन विश्वास दिलाता है कि वे भारत के लिए अभी आगे भी बेहतर देते रहेंगे, विश्व पटल पर भारतीय खिलाड़ी अच्छा खेल दिखा रहे हैं, एकल के साथ ही पुरुष युगल और महिला युगल में भी देश का भविष्य उज्जवल नजर आता हैं” इस बार ट्रेसा जोली और गायत्री गोपीचंद भी आल इंग्लैंड महिला युगल सेमीफाइनल खेली हैं, प्रकाश पादुकोण बैडमिंटन एकेडमी के मुख्य प्रशिक्षक द्रोणाचार्य पुरस्कार प्राप्त यु.विमलकुमार भी चाहते हैं कि उनका लक्ष्य विश्व नंबर एक बने, वे उसके मौजूदा प्रदर्शन से बहुत खुश हैं।

विमलकुमार कहते हैं-“लक्ष्य में सफलताओं से आत्म विश्वास बढ़ा हैं, और सुधार कर लक्ष्य और बेहतर खेल सकेंगे”,
लक्ष्य सेन के पिताजी प्रशिक्षक डी के सेन भी अपने बेटे के टाप -10 में आने से खुश हैं, वे कहते हैं -‘लक्ष्य आल इंग्लैंड फाइनल जीत लेता तो टाप-8 में अभी आ जाता, अब अगली स्पर्धाओं में बेहतर खेल कर आगे बढ़ना हैं’ लक्ष्य सेन अब अप्रैल में कोरिया खुली सुपर -500 में खेलेंगे जो 5 से 10अप्रैल तक दक्षिण कोरिया के सुनचेओन में हैं, निश्चित ही प्रकाश पादुकोण बैडमिंटन एकेडमी के लक्ष्य सेन में प्रकाश पादुकोण के कदमों पर चलने की क्षमता नजर आती हैं।