Homeइंदौर न्यूज़समाज की वेदनाओं की प्रवक्ता है पत्रकारिता- विधानसभा अध्यक्ष

समाज की वेदनाओं की प्रवक्ता है पत्रकारिता- विधानसभा अध्यक्ष

इंदौर 14 नवम्बर, 2021
मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम ने कहा कि पत्रकारिता समाज की वेदनाओं की प्रवक्ता है। वह समाज का आईना है। उन्होंने आग्रह किया कि आज के दौर में सकारात्मक पहलूओं को भी सामने लाने की जरूरत है। श्री गौतम ने कहा कि इंदौर की पत्रकारिता ने देश में उच्च पत्रकारिता के बेहतर मापदण्ड तय किये है। देश में इंदौर की पत्रकारिता का विशेष स्थान है।

ALSO READ: स्वागत और व्यवस्थाओं को देख भावविभोर हुए महा-सम्मेलन के यात्री, जताया आभार

श्री गौतम आज यहां इंदौर प्रेस क्लब द्वारा आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह और व्याख्यान कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर विधायक द्वय श्रीमती मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ तथा श्री आकाश विजयवर्गीय, अमर उजाला डिजीटल के संपादक तथा वरिष्ठ पत्रकार श्री जयदीप कर्णिक, इंदौर प्रेस क्लब अध्यक्ष श्री अरविंद तिवारी, उपाध्यक्ष श्री दीपक कदम, महा सचिव श्री हेमंत शर्मा भी मौजूद थे। स्व. श्री गोपीकृष्ण गुप्ता स्मृति रिपोर्टिंग स्पर्धा, मूर्धन्य पत्रकार स्व. श्री प्रभाष जोशी स्मृति विशेष रिपोर्टिंग स्पर्धा, पूर्व शिक्षा मंत्री स्व. श्री लक्ष्मणसिंह गौड़ की स्मृति में दो फोटोग्राफी स्पर्धाओं के विजेताओं को विधानसभा अध्यक्ष श्री गौतम द्वारा पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में ‘वक्त की कसौटी पर मीडिया की विश्वसनीयता’ विषय पर परिसंवाद भी आयोजित किया गया। इस परिसंवाद में विषय प्रवर्तन वरिष्ठ पत्रकार श्री जयदीप कर्णिक ने किया।

कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुये विधानसभा अध्यक्ष श्री गौतम ने कहा कि नारद मुनि समाज के पहले पत्रकार थे। पत्रकारिता को समाज में अभिव्यक्ति की विशेष क्षमता प्राप्त है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में जहां एक ओर समाज की वेदनाओं और कमियों को सामने लाने की जरूरत है, वहीं दूसरी और समाज के सकारात्मक कार्यों और पहलूओं को भी सामने लाना चाहिये। उन्होंने कहा कि जब पूरी सच्चाई सामने आयेगी, तभी पत्रकारिता कसौटी पर खरी उतरेगी। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता ने समाज को हमेशा दिशा दी है। उन्होंने कहा कि आज जरूरत है कि अखबार ग्राहक नहीं बल्कि पाठक को ध्यान में रखकर प्रकाशित हों। पत्रकारिता को नकारात्मकता की सोच से दूर रखा जाये। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये श्रीमती मालिनी गौड़ और श्री आकाश विजयवर्गीय ने विजेताओं को शुभकामनाएं दी।

‘वक्त की कसौटी पर मीडिया की विश्वसनीयता’ विषय पर आयोजित परिसंवाद में मुख्य वक्ता के रूप में सम्बोधित करते हुये श्री जयदीप कर्णिक ने कहा कि पत्रकारिता को हमेशा कसौटी पर रखा गया है। आज के दौर में जब सोशल मीडिया और डिजीटल मीडिया भी आ गये है, ऐसे में कसौटी और अधिक पैनी हो गयी है। पिछले डेढ़ दशक में मीडिया की विश्वसनीयता पर लगातार चर्चा हो रही है। ऐसे वक्त में हमारी जवाबदारी और अधिक बढ़ जाती है, कि हम कसौटी पर और अधिक खरा उतरे। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता समाज को प्रहरी है। समाज के अच्छे बुरे को संज्ञान में लेना प्रमुख दायित्व है। उन्होंने कहा कि आज वक्त में समाज का हर वर्ग कसौटी पर परखा जाने लगा है। विश्वसनीयता का संदेह सभी पर है। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता की विश्वसनीयता पर आये संकट के लिये समाज भी जिम्मेदार है।

प्रारंभ में स्वागत भाषण देते हुये इंदौर प्रेस क्लब के अध्यक्ष श्री अरविंद तिवारी ने प्रेस क्लब की गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में इंदौर प्रेस क्लब के सदस्यों ने अपने दायित्वों का बखूबी निर्वहन किया। उन्होंने कहा कि संकट के समय प्रेस क्लब के सदस्यों की हर तरह से मदद की गई। उन्होंने पुरस्कार वितरण समारोह के संबंध में भी जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन श्री प्रदीप जोशी ने किया। अंत में श्री हेमंत शर्मा ने आभार माना।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular