Indore:ऑनलाईन ठगी की शिकार हुई महिला, क्राइम ब्रांच ने ऐसे की मदद

मारुति फॉस्ट ट्रैक कंपनी से कोरियर प्राप्त होने वाला था। जिसे वह अपने मोबाइल से Google पर सर्च करते ठग व्यक्ति के द्वारा बनाए फर्जी वेब पेज पर फॉर्म में 100 /– रुपए पेमेंट क्रेडिट कार्ड से कर पार्सल ट्रेस कर प्राप्त करना बताया था।

Indore Crime Branch
Indore Crime Branch

इंदौर: पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर हरिनारायणचारी मिश्र द्वारा इंदौर कमिश्नरेट में लोगों से छलकपट कर अवैध लाभ अर्जित करते हुए आर्थिक ठगी करने वाले एवं सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाकर अपातिजनक पोस्ट व हैकिंग करने वाले अपराधियों की पहचान की है। साथ ही उनके विरुद्ध विधिसंगत कार्यवाही करते हुये उनकी धरपकड़ करने हेतु प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। उक्त निर्देशों के अनुक्रम में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) राजेश हिंगणकर के मार्गदर्शन में पुलिस उपायुक्त (क्राइम ब्रांच) निमिष अग्रवाल एवं अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (क्राईम ब्राँच) गुरू प्रसाद पाराशर द्वारा ऑनलाईन ठगी एवं सोशल मीडिया संबंधी अपराधों की रोकथाम हेतु क्राइम ब्रांच फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन टीमों को लगाया गया है ।

Must Read- बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की संवेदनशीलता आई सामने, Video Viral

फ्रॉड इंन्वेस्टीगेशन सेल टीम द्वारा आवेदिका माधुरी निवासी इंदौर से फ्राड की संपूर्ण जानकारी लेकर जांच की। जांच के दौरान ज्ञात हुआ कि आवेदिका को मारुति फॉस्ट ट्रैक कंपनी से कोरियर प्राप्त होने वाला था। जिसे वह अपने मोबाइल से Google पर सर्च करते ठग व्यक्ति के द्वारा बनाए फर्जी वेब पेज पर फॉर्म में 100 /– रुपए पेमेंट क्रेडिट कार्ड से कर पार्सल ट्रेस कर प्राप्त करना बताया था। जिस पर आवेदिका ने अपने RBL bank के क्रेडिट कार्ड की डिटेल्स फर्जी वेब पेज पर डाली, तो आवेदिका के खाते से 1,05,000/– रू आहरित हो गए और आहरित राशि cash free अकाउंट में ट्रांसफर कर ठगी की गई थी।

Must Read- Indore: निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का शुभारंभ, 19 झोनों में आयोजित किया गया शिविर

उक्त शिकायत प्राप्त होने पर तत्काल क्राईम ब्रांच इंदौर की फ्राड इंन्वेस्टीगेशन सेल से उप.निरीक्षक शीतू जरिया व म.आर संध्या पांडे के द्वारा आवेदिका से ट्रांजेक्शन की जानकारी लेकर RBL bank और कैश फ्री वॉलेट बैंक से संपर्क कर आवेदिका की आहरित राशि 1,05,000/– रूपये उसके स्वंय के बैंक खाते मे सकुशल वापस कराये गये। आमजन को सूचित किया जाता है की इंटरनेट पर ऑनलाइन वेबसाइट सर्च करने के पहले वेबसाइट की विश्वसनीयता की अच्छे से जांच करले अन्यथा आप भी ठगी का शिकार हो सकते है। इस तरह की घटना की सूचना तुरंत अपने नजदीकी थाने पर दे या क्राइम ब्रांच इंदौर पुलिस द्वारा संचालित सायबर हेल्पलाइन नं. 704912-4445 पर सूचित करें।