Indore: मेदांता अस्पताल में लगी आग की घटना की जांच कलेक्टर कराएंगे

इंदौर। इंदौर के मेदांता अस्पताल में रविवार को आग लगने का मामला सामने आया है। जानकारी मिली है कि आग अस्पताल के आईसीयू में लगी। फिलहाल आग लगने का कारण सामने नहीं आया है, लेकिन आग लगने की घटना के बाद मरीजों व वहां मौजूद मरीजों के परिजनों में हड़कंप मच गया। मौके पर फायर बिग्रेड की गाड़ियों को भी बुलाया गया।

ALSO READ: आरक्षण पर सख्त कांग्रेस, अब इसलिए लगायेगी हाई कोर्ट में याचिका

मिली जानकारी के अनुसार आगजनी की घटना शाम करीब 5 से 5.30 बजे के बीच की बताई जा रही है। मेदांता हॉस्पिटल में अचानक धुआं उठा, जिससे कि मरीज और उनके परिजन भी घबरा गए। हालांकि, अस्पताल प्रशासन और स्टाफ ने कुछ ही देर में आग पर काबू पा लिया है और घबराए मरीजों के साथ उनके परिजनों को भी संभाल लिया। गौरतलाब है कि, कई परिजन इस दौरान परेशान रहे, जिन्हें प्रशासन और स्टाफ दिलासा देता रहा कि कोई भी परेशानी की बात नहीं है। वहीं अब अस्पताल प्रशासन द्वारा आईसीयू के मरीजों को अन्य आईसीयू में शिफ्ट किया गया है और आग लगने के कारणों का पता लगाया जा रहा है।

वहीं अब मेदांता हॉस्पिटल ने एक स्टेटमेंट दिया है। उन्होंने कहा कि, “हमारे चौथी मंजिल के मेडिकल आईसीयू में छोटा शॉर्ट सर्किट था। जिसके परिणामस्वरूप धुआं निकला, हालांकि हमारे मजबूत अग्निशमन प्रोटोकॉल ने तुरंत अलार्म बनाया और हमारी प्रतिक्रिया प्रणाली को सक्रिय कर दिया। हमने पहली प्राथमिकता पर सभी एहतियात और सुरक्षा के साथ अन्य आईसीयू में पेटिनेट्स को स्थानांतरित कर दिया, और स्थिति को कुशलता से नियंत्रित किया गया।”

इंदौर के मेदांता अस्पताल के आईसीयू में रविवार की शाम लगी आग की घटना को कलेक्टर मनीष सिंह ने गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दिए है। कलेक्टर सिंह ने जांच दल गठित किया है जो घटना की छानबीन करेगा और अपनी जांच रिपोर्ट कलेक्टर को सोपेगा। आदेश के परिपालन में ADM पवन जैन मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर BS सेतिया नगर निगम के फ़ायर ऑफ़िसर सहित विद्युत एवं सुरक्षा विभाग के अधिकारियों का दल थोड़ी ही देर में मेदांता हॉस्पिटल पहुँचेगा। यह जाँच दल अस्पताल में हुई अग्नि दुर्घटना के कारणों सहित सभी बिन्दुओं पर विस्तार से छानबीन कर प्रतिवेदन जिला दंडाधिकारी को प्रस्तुत करेगा।