इंदौर : सांसद लालवानी का प्रदेश संगठन मंत्री शर्मा के सामने छलका दर्द, कहा नहीं मिली टिकिट वितरण में तवज्जो

सूत्रों के मुताबिक सांसद शंकर लालवानी ने कहा कि उनके द्वारा दिए गए नाम को ना तो नगर इकाई में और ना ही महापौर परिषद में कोई जगह मिल सकी, उन्होंने कहा की ऐसा पहली बार हुआ है वरना इसके पहले ताई सुमित्रा महाजन द्वारा दिए जाने वाले नामों को पर्याप्त तवज्जो मिलती रही है।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इंदौर के सांसद शंकर लालवानी (MP Shankar Lalwani) ने प्रदेश संगठन मंत्री हितानंद शर्मा (Hitanand Sharma) के सामने अपना दर्द बयान किया है। गौरतलब है कि कल संगठन मंत्री हितानंद शर्मा भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय नेताओं के साथ सांसद जी के निवास पर सौजन्य भेंट के लिए पहुंचे थे, तब सांसद शंकर लालवानी का दर्द उनके आगे छलका।

Also Read-इंदौर : कम Visibility के चलते Flights की आवाजाही प्रभावित, भोपाल में कराना पड़ रही है Landing

नहीं मिली टिकिट वितरण में तवज्जो

सूत्रों के मुताबिक सांसद शंकर लालवानी ने कहा कि उनके द्वारा दिए गए नाम को ना तो नगर इकाई में और ना ही महापौर परिषद में कोई जगह मिल सकी, उन्होंने कहा की ऐसा पहली बार हुआ है वरना इसके पहले ताई सुमित्रा महाजन द्वारा दिए जाने वाले नामों को पर्याप्त तवज्जो मिलती रही है।

Also Read-Indore : रात में घर से भटका 3 साल का मासूम, डायल 100 ने किया परिवार के सुपुर्द

सांसद की समर्थक को नहीं मिला महापौर का टिकिट

निगम चुनाव में सांसद शंकर लालवानी ने अपने कुछ समर्थकों को टिकट दिलवाई और जिसमें वे चुनाव भी जीते। जिनमें त्रिनेत्रिया भी शामिल है मगर उसके बाद सांसद शंकर लालवानी अपनी समर्थक कंचन गिदवानी को महापौर परिषद में लाने में सफल नहीं हो सके और उन्होने अपनी ये पीड़ा प्रदेश संगठन मंत्री के समक्ष रखी। इस दौरान उन्होंने शिकायत की कि ताई जब सांसद थी तब 11 पार्षदों को टिकिट मिलने के साथ कम से कम दो पार्षद mic में भी रहते थे , लेकिन इस बार सांसद को टिकिट वितरण में तवज्जो नहीं मिली।