HomeदेशIndore: मां की डांट से रतलाम भागी नाबालिग, पुलिस ने ढूंढकर परिजनों...

Indore: मां की डांट से रतलाम भागी नाबालिग, पुलिस ने ढूंढकर परिजनों को सौंपा

इंदौर -दिनांक 12 दिसंबर 2021 – शहर में नाबालिगों की गुमशुदगी के मामलो में गंभीरता से कारवाई कर उनकी तलाश करने के लिए कमिश्नर ऑफ पुलिस इंदौर श्री हरिनारायणचारी मिश्र और एडिशनल कमिश्नर ऑफ पुलिस इंदौर श्री मनीष कपूरिया ने इंदौर पुलिस को निर्देशित किया गया है। जिसके पालन में डीसीपी श्री आशुतोष बागरी, एडिशनल डीसीपी श्री जयवीर सिंह भदौरिया के मार्गदर्शन में एसीपी आजाद नगर श्री मोतीउर रहमान द्वारा दिए गए दिशा निर्देश अनुसार कार्यवाही करते हुए पुलिस थाना आजाद नगर ने एक नाबालिक बालिका को रतलाम से दस्तयाब करने में सफलता मिली है।

ALSO READ: अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति आधार सीडेड बैंक खाते में ऑनलाइन हस्तांतरित की जाएगी

इसी अनुक्रम में आजाद नगर पुलिस को इलाके में रहने वाले एक परिवार ने 15 वर्षीय नाबालिग लड़की के लापता होने की जानकारी दी। वह 10 वी कक्षा में पढ़ाई कर रही है। थाना प्रभारी इंद्रेश त्रिपाठी ने नाबालिग का फोटो और जानकारी सोशल मीडिया पर वायरल की। इसका असर रहा की रतलाम रेलवे पुलिस ने उन्हें जानकारी दी की ये नाबालिग वहा पर है। स्टेशन पर उसे अकेले घूमता देख पुलिस जानकारी पता कर रही थी। आजाद नगर पुलिस ने नाबालिग को रतलाम में वन स्टाप सेंटर पर ले जाने को कहा। परिवार को नाबालिग के मिलने की जानकारी दी गई। परिजन और पुलिस टीम रतलाम पहुंची। नाबालिग को वे वापस लेकर आए।

नाबालिग के सुरक्षित मिलने पर परिजन भी काफी खुश थे। थाने पर पुलिस ने नाबालिग की काउंसलिंग की, पता चला की किसी बात पर उसे मां ने डांट दिया था, जिससे नाराज होकर ट्रेन में बैठकर वह रतलाम पहुंच गई थी। पुलिस ने नाबालिग की काउंसलिंग कर समझाइश दी की आगे से वह ऐसा नहीं करें। इस कारवाई में थाना प्रभारी इंद्रेश त्रिपाठी, उप निरीक्षक प्रियंका, सहायक उप निरीक्षक हेमराज पंवार, प्र. आ. सुखमनिया की सराहनीय भूमिका रही।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular