मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इंदौर को प्रदेश का टूरिज्म हब बनाया जाएगा। इंदौर के एक तरफ उज्जैन महांकाल लोक बन चुका है, दूसरी और ओंकारेश्वर में अद्वैत संस्थान का निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा एक तरफ मांडू और महेश्वर भी है, इसके लिये इंदौर को एक अच्छा टूरिज्म हब विकसित किया जा सकता है। साथ ही इंदौर में सड़कों के बोझ को कम करने के लिए यहां आकाश मार्ग का भी इस्तेमाल किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंगलवार को इंदौर विकास प्राधिकरण द्वारा आयोजित कार्यक्रम में 47.27 करोड़ रुपये की लागत वाले क्रांतिसूर्य जननायक टंटया मामा भील चौराहा (भंवरकुआ) के फ्लाय ओव्हर और 41.18 करोड़ रुपये की लागत के खजराना स्थित चौराहे पर बनने वाले फ्लाय ओव्हर का भूमिपूजन किया। इस कार्यकम में संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर, सांसद शंकर लालवानी, महापौर पुष्यमित्र भार्गव, विधायक मालिनी गौड़, विधायक महेन्द्र हार्डिया, विधायक आकाश विजयवर्गीय, इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा, सावन सोनकर, श्री गौरव रणदीवे, मनोज पटेल, राजेश सोनकर, सुदर्शन गुप्ता सहित सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

एक साल के अंदर 1 लाख से अधिक शासकीय पदों पर होगी भर्ती

मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेश के शिक्षा के गढ़ इंदौर के इंद्रपुरी में कहा कि एक साल के अंदर 1 लाख 13 हजार शासकीय पदों की भर्ती प्रक्रिया प्रारम्भ हो गई है। इसमें पीएससी के पद भी शामिल है। उन्होंने यह भी कहा कि मध्यप्रदेश की धरती पर अब मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई भी हिंदी में प्रारम्भ की गई है। अंग्रेजी के बोझ को भविष्य में बाधा नही बनने दिया जाएगा। इसके लिये हिन्दी में पाठ्यक्रम भी प्रारंभ कर दिये गये हैं।

इंदौर के लिए नई सौगातों की हुई घोषणा

इंदौर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने सांसद लालवानी, विधायक मालिनी गौड़ और मधु वर्मा द्वारा की गई मांगों को पूरा किया है। उन्होंने कहा कि राऊ में जल संसाधन के तालाब को नगर परिषद राऊ को दिया जाएगा। इसके अलावा मुख्यमंत्री चौहान ने गांधीनगर और फूटी कोठी में फ्लाय ओव्हर बनाने की घोषणा की है। साथ ही उन्होंने इंदौर में एमआर-3 भी बनाने की घोषणा की है।

कार्यक्रम के दौरान इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा ने स्वागत संबोधन में कहा कि इंदौर का आज विश्व में नाम है तो इसके पीछे मुख़्यमंत्री श्री चौहान की कल्पना और उनकी दूरदृष्टि से ही सम्भव हो पाया है। आईडीए अध्यक्ष चावड़ा ने मुख्यमंत्री चौहान का स्वागत और आभार भी व्यक्त किया।

2 फ्लाय ओव्हर का हुआ भूमिपूजन-आगे और होंगे फ्लाय ओव्हर के कार्य

आईडीए के अध्यक्ष चावड़ा ने बताया कि क्रांतिसूर्य जननायक टंटया मामा भील चौराहा (भंवरकुआ) का फ्लाय ओव्हर राशि रू. 47.27 करोड़ और खजराना चौराहे का फ्लाय ओव्हर की राशि 41.18 करोड़ की लागत से यह कार्य पूरा किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री चौहान ने इंदौर शहर में 11 फ्लाय ओव्हर बनाये जाने की घोषणा की गई थी। लवकुश चौराहे पर भूमि पूजन का शिलान्यास मुख्यमंत्री द्वारा पूर्व में किया जा चुका है। इन 2 फ्लाय ओव्हर का भूमि पूजन सम्पन्न होने से कुल 3 फ्लाय ओव्हर का कार्य शुरू हो जायेगा। साथ ही फुटी कोठी चौराहे पर निविदा आमंत्रित कर ली गई है। शीघ्र ही उसका शिलान्यास भी सम्पन्न होगा। इसके अतिरिक्त लवकुश चौराहे पर इन्दौर से उज्जैन जाने वाले मार्ग पर मल्टी लेयर फ्लाय ओव्हर की भी निविदा आमंत्रित कर ली गई है। साथ ही सुपर कॉरिडोर को योजना क्रमांक 172 से जोड़ने वाली सड़क पर (सुपर कॉरिडोर का विस्तार) फ्लाय ओव्हर बनाने की प्रक्रिया प्रचलन में है। इस प्रकार मुख्यमंत्री चौहान की मंशा अनुसार उनकी घोषणा का शत प्रतिशत क्रियान्वयन किया जायेगा। इस प्रकार अनेकों फ्लाय ओव्हर की सौगात शहरवासियों को प्राप्त होगी, जो इन्दौर शहर के ट्रैफिक के बेहतर प्रबंधन में एक मिल का पत्थर साबित होगी।