इंदौर(Indore) : साबू ट्रेड ने हमेशा अपने उपभोक्ताओं के फीडबैक का सम्मान किया है और अपने उत्पादों को निरंतर बेहतर करने का प्रयास किया है। इसी तारतम्य में नवरात्री में प्रत्येक दिन शहर में कुकरी जॉकी द्वारा विभिन्न स्थानों पर अलग अलग मिलेट्स से निर्मित फरयाली खिचड़ी का टेस्टिंग एवं वितरण करवाया गया जिसे करीब 14000 लोगों ने पसंद किया। शहर के गुण-पारखी निवासियों को पहली बार मिलेट्स चखने का मौका मिला।

नवरात्रि के नौ दिनों में शहर के करीब 12000 लोगों को कुकरी जॉकी बार्नयार्ड (झंगोरा), फॉक्सटेल (कंगनी) लिटिल (मोरधन – भगर) और कोदो मिलेट्स की बनी स्वादिष्ट खिचड़ी का स्वाद प्रसाद के रूप में लेकर फीडबैक देने का लक्ष्य रखा गया था, जिसकी जगह करीब 14000 लोगों ने चखा पसंद किया।

नियमित रूप से सर्वोत्तम किस्म के शुद्ध फरियाली खाद्य पदार्थ उपलब्ध करवाने वाली सेलम की साबु ट्रेड ने शारदीय नवरात्रि के पहले दिन अन्नपूर्णा मन्दिर, पर कुकरीजॉकी बार्नयार्ड (झंगोरा) मिलेट, दूसरे दिन हरसिद्धि मंदिर, पँढरीनाथ पर फॉक्सटेल (कंगनी) मिलेट, तीसरे दिन बिजासन मंदिर, इन्दौर पर कुकरीजॉकी लिटिल (मोरधन – भगर) मिलेट चौथे दिन विद्याधाम मंदिर, एरोड्रम रोड पर कुकरी जॉकी कोदो (कोदरा) पांचवे दिन “शांति प्रिय, मारोठिया में बार्नयार्ड (झंगोरा) मीलेट, छठे दिन “रेलवानी सुपर शॉप, कालानी नगर, इन्दौर” पर कुकरी जॉकी फॉक्सटेल (कंगनी) मीलेट, सातवें दिन “अन्नपूर्णा मंदिर, इन्दौर” पर कुकरी जॉकी लिटिल (मोरधन – भगर – कुटकी) मीलेट, आठवें दिन “वैष्णव धाम मंदिर” बिचोली मर्दाना, और माँ शेरावाली मंदिर श्रीनगर एक्सटेंशन, खजराना रोड पर कुकरी जॉकी कोदो (कोदरा) मीलेट और नवें दिन “पवनG स्टोर्स, पाटनीपुरा, इन्दौर”, पर कुकरीजॉकी बार्नयार्ड (झंगोरा) मीलेट से बनी स्वादिष्ट फरियाली खिचड़ी का वितरण – टेस्टिंग करवाया गया.

सेलम के साबु ट्रेड प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री गोपाल साबु ने बताया कि ये मिलेट्स फलाहारी है और उपवास व्रत की कसौटी पर खरे उतारते हैं। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर UNO द्वारा वर्ष 2023 को अंतर्राष्ट्रीय मीलेट वर्ष घोषित किया गया है। दक्षिण भारत में घर घर में इसका स्वाद और गुण अपनाया जा चुका है.

इस एक्टिविटी के माध्यम से हम लोगों को सही तरीके से उच्च क्वालिटी की सामग्री का इस्तेमाल कर हमारे मार्गदर्शन में बनी मिलेट्स की खिचड़ी का अनुभव करवाना चाहते हैं और सही फीडबैक भी लेना चाहते हैं। आदिकाल से अपने पूर्वजों द्वारा चिरपरिचित इस खाद्य को आधुनिक युग में लोग भुला बैठे हैं। इसके स्वास्थ्य वर्धक गुण व स्वाद को पुनः आज के रसोई और थाली में स्थापित करना ही हमारी कम्पनी का प्रथम ध्येय है।मीलेट उपयोग के प्रति लोगों में जागृति हेतु साबु ट्रेड “मिलेटस के विभिन्न प्रकार, उपयोगिता, उनके गुण-धर्म, उपयोग विधि आदि” पर एक लघु पुस्तिका प्रकाशित की गई है जिसका इन टेस्टिंग सेशन में नि:शुल्क वितरण किया गया है।

उन्होंने आगे कहा “मुझे यह बताते हुए बहुत ख़ुशी हो रही है कि अनेक लोगों ने खिचड़ी के स्वाद को सराहते हुए माना कि मिलेट्स खाने में हलके हैं एवं इसकी बनी खिचड़ी नरम है। हम अपने ग्राहकों को उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों के साथ निरंतर बेहतर सेवाएं देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।” इस पूरे आयोजन को सफल बनाने के लिए साबु ट्रेड और साबु संस की ओर से सभी सहयोगियों को बहुत बहुत धन्यवाद और विनम्र आभार व्यक्त किया है।

Source : PR