देश

इंदौर में बढ़ते कोरोना संक्रमण पर विचार, चिकित्सकीय स्थिति समीक्षा बैठक हुई संपन्न

इंदौर 12 जुलाई 2020
इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की बढ़ रही संख्या को देखते हुए चिकित्सकीय और अन्य स्थिति की समीक्षा के लिये आज रेसीडेंसी कोठी में एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। बैठक में इंदौर में वर्तमान में बढ़ रहे कोरोना के प्रकरणों की समीक्षा की गई। साथ ही कारणों और रोकथाम के उपायों पर विचार किया गया। बैठक में सांसद शंकर लालवानी, संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, कलेक्टर मनीष सिंह, डॉ. निशांत खरे और मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ. ज्योति बिंदल तथा स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर उपस्थित थे।
बैठक में संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा ने इंदौर में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने स्थिति को नियंत्रित करने के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने एहतियाति पुख्ता कदम उठाये जाने की जरूरत भी बतायी।
बैठक में सांसद शंकर लालवानी ने कहा कि कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ना चिंता का विषय है। लोगों में कोरोना के लक्षण दिखायी दे रहे हैं। गंभीर मरीज भी सामने आ रहे हैं। इंदौर शहर के साथ इसका फैलाव अब ग्रामीण क्षेत्रों में भी हो रहा है। अब और अधिक सजग रहने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि विगत कुछ दिनों में जब से लॉकडाउन खुला है, आम नागरिकों में जागरूकता की कमी देखी गई है। उन्हें अवसर दिये गये थे कि वे संयम, अनुशासन और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अपनी दिनचर्या को सामान्य करें, परंतु इस दौरान संयम, अनुशासन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होना देखा गया है। यह भी सबसे बड़ा चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि आगामी समय में कोरोना को देखते हुए किस तरह के उपाय किये जायें, उस संबंध में आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में निर्णय लिये जायेंगे।
बैठक में कलेक्टर मनीष सिंह ने चिकित्सकों से विचार-विमर्श कर इंदौर में बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि विचार-विमर्श के पश्चात कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण एवं यह स्थिति किस दिशा में जायेगी, उसका विस्तार से अध्ययन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में कराये जा रहे सर्वे के कारण 60 से 70 प्रतिशत मरीज सामने आ रहे हैं। कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ना चिंता का विषय है। ऐसे समय में एहतियाति उपाय करना अत्यन्त जरूरी हो रहा है। आगामी समय में किस तरह के प्रबंध और उपाय किये जाना है, इसके संबंध में आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में निर्णय लिया जायेगा। उन्होंने बताया कि सब्जी मण्डी में भीड़, फूड की दुकानों में लापरवाही, मार्केट में अनियंत्रित भीड़ और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होना भी एक कारण है। शहर में अब सही समय पर सही कदम उठाये जाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि यह देखा जा रहा है कि कोरोना दोबारा दोगुनी शक्ति के साथ वापस आता है। इंदौर में क्या स्थिति है, यह अध्ययन कर पता लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शहर में मूवमेंट कम हो और नागरिकों में सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे, इसके लिये कदम उठाये जाना जरूरी है। मध्य क्षेत्र में भीड़ बढ़ रही है, इसको भी नियंत्रित करना होगा। उन्होंने कहा कि जनता जागरूक रहें। संयम से रहें। अनुशासन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। मास्क लगायें। सैनेटाइजर का उपयोग करें।

Related posts
देश

भूमि पूजन के तुरंत बाद देश को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, जानें कैसे है उनका मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम

5 अगस्त को अयोध्या में राममंदिर का…
Read more
अन्यदेश

राम भगवान को पूर्वज मानती है वाराणसी की ये मुस्लिम महिलाएं, कर रही रामचरितमानस पाठ

राम जन्मभूमि को लेकर देशभर में काफ…
Read more
breaking newsदेशमध्य प्रदेश

भोपाल अब भी कोरोना हॉटस्पॉट, इन भाजपा नेताओं की रिपोर्ट पॉजिटिव

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group