देश

बुनियादी उद्योगों पर कोरोना की मार, अप्रैल में 38.1 फीसदी घटा उत्पादन

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर देश में लाॅकडाउन लागू है। जिसका अर्थव्यवस्था पर खासा असर देखा जा रहा है। वहीं इस महातारी ने आठ बुनियादी उद्योगों को भी प्रभावित किया है, जिसके चलते अप्रैल माह में उत्पादन में पिछले साल की तुलना में 38.1 फीसदी की गिरावट आई है। जो कि गिरावट का एक नया रिकाॅर्ड माना जा रहा है।

वाणिज्य मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को जारी किए गए आंकड़ों की माने तो इन आठ बुनियादी उद्योगों के उत्पादन में अप्रैल 2019 में 5.2 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई थी। जबकि मार्च 2019 में आठ प्रमुख उद्योगों कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, सीमेंट, इस्पात और बिजलीय में नौ फीसदी की गिरावट पाई गई थी।

मंत्रालय ने बताया कि ‘कोविड-19 महामारी के कारण अप्रैल 2020 के दौरान देशव्यापी बंद से कोयला, सीमेंट, इस्पात, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी, कच्चा तेल समेत सभी बुनियादी उद्योगों का उत्पादन घटा है।’

11 साल के निचले स्तर पर जीडीपी ग्रोथ

कोरोना संकट के बेच केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने वित्त वर्ष 2019-20 की जीडीपी ग्रोथ के आंकड़े पेश किए है। वित्त वर्ष 2019-20 में जीडीपी ग्रोथ 4.2 फीसदी पर थम गई है। ये जीडीपी ग्रोथ का 11 साल का निचला स्तर है। जनवरी में सरकार ने कहा था कि वित्त वर्ष 2019-20 के लिए जीडीपी का ग्रोथ रेट 5 फीसदी रहने का अनुमान है। कहने का मतलब ये है कि जीडीपी के ताजा आंकड़े सरकार के अनुमान से 0.8 फीसदी कम हैं। इससे पहले के वित्त वर्ष में जीडीपी ग्रोथ 6.1 फीसदी रही थी।

Related posts
scroll trendingदिल्लीदेश

गांधी परिवार के ट्रस्टों पर केंद्र की नजर, खास टीम करेगी जांच

नई दिल्ली। इन दिनों भारत चीन विवाद के…
Read more
breaking newsscroll trendingजम्मू कश्मीरदेश

जम्मू-कश्मीर में फिर भूकंप का झटका, राजौरी में हिली धरती

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर…
Read more
देशमध्य प्रदेश

कांग्रेसियों का मानना है दिग्विजय के जाने से कट जाते हैं वोट : नरोत्तम मिश्रा

भोपाल। लंबे इंतेजार के बाद…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group