देश

इंदौर में अंतिम चरण में मेंटेनेंस, बारिश से पहले सभी काम होंगे पूर्ण

इंदौर। मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री विकास नरवाल के निर्देश पर प्रभावी मैंटनेंस एवं ट्रांसफार्मर, लाइनों, पोल के नए कार्य किए गए हैं, ताकि बारिश में बिजली सप्लाय ठीक से हो सके। शहर में मैंटेनेंस का कार्य लगभग पूर्ण होने को है, 400 फीडरों का मैंटेनेंस हो चुका है। शनिवार को राज मोहल्ले के पास आदर्श इंदिरा नगर में 33 केवी लाइन से सटे विशाल पीपल की बड़ी शाखाएं हटाई गई।

मप्रपक्षेविविकं इंदौर के शहर अधीक्षण यंत्री श्री अशोक शर्मा ने बताया कि 1 मई से मैंटनेंस की विधिवत शुरुआत की गई थी। करीब 35 दिनों में 400 फीडरों के जरूरी कार्यों का मैंटेनेंस किया गया है। अब मैंटेनेंस की कार्य श्रृंखला अंतिम चरण में है। शनिवार को राजमोहल्ला 33 केवी फीडर का आदर्श इंदिरा नगर में प्रभावी मैंटेनेंस किया गया। यहां लाइनों के पास 20 मीटर तक पीपल के पेड़ की विशाल शाखाएं सटी हुई थी। 10 कर्मचारियों ने यहां पीपल के पेड़ की शाखाएं हटाई। इस कार्य में कार्यपालन यंत्री श्री डीके तिवारी एवं मैंटेनेंस विंग प्रभारी श्री एमएस सिकरवार का विशेष योगदान रहा। रविवार को भी शहर के 10 फीडरों का मैंटेनेंस किया जाएगा। श्री शर्मा ने बताया कि सभी महत्वपूर्ण अस्पतालों में डबल लाइन से सप्लाय हैं, जबकि एमवाय संकुल में तीन लाइनों से सप्लाय हो रहा हैं, ताकि एक लाइन में फाल्ट आने पर दूसरी दो लाइनों से बिजली प्रवाहमान रहे।

ट्रांसफार्मर रात में ही सुधारा

बीती रात जिंसी में 5 मैगावाट के पावर ट्रांसफार्मर में खराबी आ गई थी,ट्रांसफार्मर का आईल लिकेज हो रहा था। शहर के 5 इंजीनियरों एवं 20 कर्मचारियों की टीम ने इसे चुनौती के रूप में लिया एवं मात्र पांच घंटे में ही इस समस्या को ठीक किया गया। इस ट्रांसफार्मर से कई कंटेंमेंट इलाकों में बिजली वितरित होती है। बिजली कंपनी प्रबंधन ने इस तत्पर कार्य की प्रशंसा की है।