मध्य प्रदेश

दिनचर्या में शामिल करें ‘पंचसूत्र’, दूर रहेगा कोरोना

इंदौर: शासन द्वारा आर्थिक क्रियाओं को निरंतर गति दी जा रही है। अतः आवश्यक है कि कार्य के दौरान अत्यावश्यक सावधानियों का ध्यान रखा जाए। भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा इस संबंध में काम के दौरान ध्यान रखे जाने वाले पांच सूत्र बताए गए हैं।

इन पंच सूत्रों में पहला घर से बाहर निकलते समय और काम के दौरान मुंह और नाक को मास्क, गमछे या साफ कपड़े से ढक कर रखना है। दूसरे सूत्र में एक मीटर की दूरी बनाए रखना, गले नहीं मिलना एवं हाथ नहीं मिलाना शामिल है। तीसरे सूत्र में बार-बार साबुन से 20 सेकंड तक हाथ धोने की बात कही गई है और सार्वजनिक स्थानों पर नहीं थूकना, आंख, मुंह, नाक को ना छूने की सीख भी दी गई है। इसी प्रकार चौथे सूत्र में थोड़ी-थोड़ी देर में गर्म पानी पीते रहने तथा दिनभर की दिनचर्या में पौष्टिक आहार खाने तथा अदरक, दालचीनी, हल्दी, जीरा, तुलसी आदि का सेवन करने के निर्देश भी दिए गए हैं। पाँचवें सूत्र में कोरोना वायरस संक्रमण से संबंधित लक्षण दिखाई देने जैसे बुखार, सूखी खांसी, श्वास की परेशानी महसूस होने पर तत्काल डॉक्टर से जांच कराने की निर्देश दिए गए हैं।

उक्त नियमों को अपनी दिनचर्या में शामिल कर कोरोना संक्रमण से न केवल स्वयं को बल्कि परिवार एवं समाज को भी बचाया जा सकता है।