चीनदेशविदेश

भारत-चीन के बीच फिर बढ़ा तनाव, दोनों देशों ने बढ़ाई सैनिकों की संख्या

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच एक बार फिर विवाद गहरा गया है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख स्थित गालवन नदी के किनारे चीनी सैनिक देखे गए हैं। जिसके चलते भारत ने भी सीमा पर अपने सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है। बता दे कि यहां पर पहले भी दोनों देशों के बीच विवाद हो चुका है। वहीं चीन का दावा है कि इस बार भारत ने तनाव शुरू किया है, लेकिन हम उम्मीद करते हैं यहां डोकलाम जैसी स्थिति नहीं बनेगी।

बता दे कि 9 मई को भी उत्तरी सिक्किम के नाकूला सेक्टर में भारतीय और चीनी सैनिकों में झड़प हुई थी। इस दौरान लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) के पास चीनी सेना के हेलीकॉप्टर दिखाई दिए थे। जिस पर अब भारत ने सुखोई विमानों से पेट्रोलिंग शुरू कर दी है। वहीं चीन ने इस क्षेत्र में सैन्य गतिविधि भी बढ़ाई थी जिसको लेकर भारत ने भी इस क्षेत्र में सैनिकों की तैनाती की है।

मालूम हो गालवन नदी के पास जिस क्षेत्र में भारत और चीन के बीच विवाद हुआ है। यह क्षेत्र सन 1962 में भारत-चीन के बीच हुए युद्ध के दौरान काफी अहम था। जहां भारतीय सेना की एक पोस्ट हुआ करती थी जिसे चीन ने घेर लिया था जिसके बाद शुरू हुई झड़प जंग में तब्दील हो गई थी।

गौरतलब है कि इससे पहले गलवान नदी के पास चीन के सैनिकों ने टेंट लगा दिए हैं और वहीं एक बैनर पर लिखा है कि ‘यह हमारा इलाका है, यहां से वापस चले जाओ। बता दें कि चीन की इस हरकत से दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ गया है। सुरक्षा से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि अभी तक जिस तरह के हालात देखे गए हैं उससे संकेत मिल रहे हैं कि डेमचोक इनाले में चीन काफी कुछ निर्माण कर रहा है. इस तनाव को देखते हुए भारत ने अपनी तैनाती को और मजबूत करने का फैसला लिया है।