breaking newsउत्तर प्रदेशदेश

बाबरी मस्जिद विध्वंस पर 30 सितंबर को फैसला, आडवाणी समेत ये हैं आरोपी

नई दिल्ली। सदियों से चले रहे आ रहे बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में अब कोर्ट अपना फैसला सुनाने के लिए तैयार है। बता दें कि इस मामले में पूर्व उप प्रधानमंत्री और पूर्व गृह मंत्री लाल कृष्ण आडवाणी, पूर्व राज्यपाल और यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह, भाजपा नेता विनय कटियार, पूर्व केंद्रीय मंत्री और मध्य प्रदेश की पूर्व सीएम उमा भारती आरोपी हैं।

सीबीआई ने इस मामले में 49 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल की थी जिसमें से 17 की अब तक मौत हो चुकी है। गौरतलब है कि 1992 में रामलला जन्मभूमि के विवादित स्थल पर मस्जिद को रातों रात गिराने के लिए कुल 49 एफआईआर दर्ज की गई थीं।

जिसके बाद 5 अक्टूबर 1993 को सीबीआई ने जांच के बाद इस मामले में कुल 49 आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था। जिसमें से अब तक 17 की मौत सुनवाई के दौरान हो चुकी है।

मामले पर मंगलवार को सीबीआई की विशेष अदालत में बचाव व अभियोजन पक्ष की ओर से मौखिक बहस पूरी कर ली गई है। कोर्ट ने बताया है कि वह अपना फैस्ला 30 सितंबर को सुनाएगी। गौरतलब है कि 1992 में हुए इस कांड के बाद देश भर में दंगे भड़क गए हैं। जिसके बाद तमाम आरोपियों पर देश की शांति भंग करने के भी आरोप लगाए गए।