देशमध्य प्रदेश

झाबुआ टॉवर रहवासी बिल्डिंग में काट गिराया 50 साल पुराना पेड़

इंदौर : इंदौर बिजली विभाग के कर्मचारियों की लापरवाही से इंदौर के RNT मार्ग पर स्थित झाबुआ टावर रहवासी बिल्डिंग के गेट पर कटे वृक्ष गिरने की वजह से टूटा मुख्यगेट 75,000 रुपये का नुकसान हुआ । शहर के हरे भरे वृक्षो के हिस्से को ही काट कर ले जा रहे हैं। 50 वर्ष पुराना नीम के पेड़ का बड़ा हिसा बिना किसी अनुमति के काट कर गिराया झाबुआ टॉवर के गेट पर ,जबकि वृक्ष के उन डगालो को काटा जाता है जो बिजली की लाइनों के पास आ जाती हैं लेकिन इंदौर विद्युत मंडल के कर्मचारियों ने झाबुआ टॉवर के रहवासियो की आस्था का प्रतीक 50 वर्षों से भी अधिक प्राचीन वृक्ष के बड़े हिस्से को अपनी मनमानी से रहवासीयो के मना करने के बावजूद भी काट गिराया।

वो भी झबुआ टॉवर के मुख्य गेट पर भारी भरकम हिस्से के गिरने से सीसी कैमरा एवं बिल्ड़िंग का गेट , बाउंड्रीवाल ,रेलिंग भी छति ग्रस्त हो गया , उसे छोड़कर ऐसी स्थिती में विधुत मंडल के कर्मचारी अपना वाहन लेकर जाने लगे तो झाबुआ टॉवर रहवासी बिल्डिंग के गार्ड नारायण सिंह व पांडे ने जब विधुत विभाग के कर्मचारियों से कहा कि यह निम का झाड 50 वर्ष पुराना क्यो काट दिया है  जबकि बिजली के तारो के पास इसकी छोटी छोटी डगाले हर वर्ष बड़ जाती है तो सिर्फ उन डागालो को ही काट कर चले जातें हैं ।बिल्डिंग के दोनों गार्डो की एक भी बात नही सुनी बल्कि विधुत विभाग के कर्मचारियों ने इन गार्डो से बहुत अभद्रता से कहा
आपको जो भी बात करना है हमारे अधिकारियों से करना ।

झाबुआ टॉवर के मुख्य गेट पर कटे हुए

हिस्से की वजह से रहवासियो के आने जाने का रास्ता बंद हो गया था । बिल्डिंग के गार्डो द्वारा जब उनसे कहा कि यह झाड़ यहां से हटा जाओ तो उन कर्मचारियों ने एक नही सुनी औऱ 50 वर्ष पुराना नीम का झाड़ काट दिया । जिसका बिल्डिंग के बच्चों से लेकर बूज़ुर्ग को बेहद दुःख है कटे वृक्ष की लम्बे लम्बे लकड़ी पार्ट्स ट्रक में भर के साथ में ले भी गए झाबुआ टॉवर परिसर के वर्षों पुरातन व सुंदर व आज अति उपयोगी वृक्ष, यह छटनी नहीं, अत्यंत बड़ी बड़ी डाल जो कई वर्षों से है, लकड़ी के लालच में, व हमारे सुरक्षा कैमरे व बाहर लाइट व ट्यूबवेल की केबल को भी क्षति पहुंचा दी है ।

जब एक ओर बड़ी डाल काट रहे हैं, अभी उन्हें रहवासी सुनील बचानी ने इस बारे में पूछा की भाई ये तो हमारे गेट व बाउंड्री वाल तोड़ देगी, तो कह रहे हैं इसमे हम क्या करें, आप ठाकुर साब से मोबाइल पर 8989984388 दिया, लगाने पर इस समय उनका मोबाइल नहीं उठ रहा है, पूछने पर बगैर अपना नाम बताए यहां से चले गए, actually हर वर्ष की तरह सिर्फ छटनी होनी चाहिए, न कि लकड़ी पाने के लालच में, पूरा पेड़ काटने के की स्थिति में थे यह लोग एमपीवी के लिए झाड़ की चटनी करने के बजाय झाड़ काटकर पूरी लकड़ी ले जाने के कार्य में लगे हैं दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होना चाहिए।