देश में लगातार हो रही बारिश के बीच के लगभग सभी इलाकों में ठंडक का महसूस होने लग गई है। इसी के साथ लोगों को दोहरी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है। वही पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी का दौर जारी होने से मैदानी क्षेत्रों में भी असर दिखना शुरू हो गया है। भारत की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में और उत्तर प्रदेश में सुबह और शाम ठंड के असर के साथ-साथ कोहरे की दस्तक भी देखने को मिल रही है।

दिल्ली का मौसम

दिल्ली में गुरुवार को अधिकतम तापमान 25 डिग्री जबकि न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है पश्चिम उत्तर भारत में सदियों से तापमान के सामान्य रहने का अनुमान जताया गया है। पश्चिम उत्तर भारत के कई हिस्से में सर्दी में तापमान सामान्य से अधिक है। दिन प्रतिदिन के आधार पर तापमान में भिन्नता देखि जा रही है। 02 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 8 डिग्री और अधिकतम तापमान 25 डिग्री दर्ज किया जा सकता है। वहीं, आज कोहरा भी देखने को मिलेगा। राजधानी दिल्ली में आनेवाले दिनों में तापमान में और कमी दर्ज की जा सकती है।

बिहार में बर्फीली हवा का असर

बिहार में कितनी भरी ठंडी हवा चल रही है। पश्चिमी हवा से तीन से चार दिनों तक तापमान में गिरावट देखी जाएगी। साथ ही 3 दिनों बाद ठंड में और अधिक इजाफा देखने को मिल सकता है। पारा लगातार गिर रहा है। अगले कुछ दिन में ठंड का असर तेज होगा।

झारखंड में मौसम में भारी बदलाव

झारखंड में भी मौसम में भारी बदलाव देखने को मिल रहा। अगले 2 दिन में तापमान में दो से 4 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जा सकती है। वहीं न्यूनतम पारा गिरकर 7 डिग्री सेल्सियस पहुंच सकते है।

कपकपी का ठंड

उत्तर प्रदेश में तापमान में गिरावट का दौर जारी है। कई जगह पर गहरा कोहरा छाया हुआ है। देश के 10 राज्यों में तापमान में गिरावट देखने को मिल रही है। बिहार में एक तरफ जहां कपकपी है। प्रदेश के सामान्य श्रेणी के आसार जताए हैं। दिसंबर के 2 सप्ताह तक पारा स्थिर रहेगा।

Also Read : इजरायली फिल्ममेकर ने अपने बयान पर मांगी माफ़ी, बदले अपने सुर, पहले लगाई थी लताड़

पंजाब में सर्दी का सितम

पंजाब में सर्दी का सितम देखने को मिल रहा है। जालंधर को सबसे ठंडा रिकॉर्ड किया गया। 5.5 डिग्री न्यूनतम तापमान के साथ ही तापमान में 2 फीसद की गिरावट देखने को मिली है। इससे पहले तापमान मैं भारी गिरावट से ठिठुरन बढ़ गई है। अफगानिस्तान और उत्तर की तरफ से आ रही बर्फीली हवा के कारण राजस्थान पर इसका व्यापक असर देखने को मिल रहा है। मोगा फिरोजपुर अमृतसर लुधियाना पटियाला और बरनाला सहित होशियारपुर में लगातार तापमान में गिरावट रिकॉर्ड की गई है।

राजस्थान में कड़ाके की ठंड

राजस्थान में कड़ाके की ठंड जारी है। सीकर में तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। लोगों को ठंड का अहसास होने लगा है। शुक्रवार को पारा और अधिक तीव्रता से गिरा हैं। दिन के तापमान में कमी रिकॉर्ड की गई है। मौसम विभाग की मानें तो प्रायद्वीपीय भारत के कई हिस्सों में कुछ हिस्से में फरवरी के बीच न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे रहने की उम्मीद जताई गई है। सीकर फतेहपुर शेखावटी मैं कड़ाके की ठंड पड़ गई है। सीकर राज्य का सबसे ठंडा स्थान रिकॉर्ड किया गया है। इसके अलावा जालौर भीलवाड़ा करौली और सीकर में भी न्यूनतम तापमान में गिरावट देखने को मिली है।

तापमान सामान्य से नीचे

देश के लगभग सभी राज्यों में ठंड आ चुकी है। मौसम विभाग की मानें तो प्रायद्वीपीय भारत के कई हिस्सों और मध्य भारत के कुछ हिस्सों और उत्तर पश्चिम भारत के एक दो भागों में दिसंबर से फरवरी के बीच न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे रहने की संभावना है। वहीं, इस बीच दक्षिण के राज्यों में बारिश का सिलसिला जारी है।

मौसम विभाग द्वारा लेटेस्ट अपडेट के मुताबिक दक्षिण अंडमान सागर में एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उभरने का अंदेशा है। इसके प्रभाव में 5 दिसंबर के आसपास दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी और इससे सटे दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है। इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और केंद्रित होने की संभावना है।

इन राज्यों में बारिश

मौसम विभाग की मानें तो प्रायद्वीपीय भारत में दिसंबर में सामान्य बारिश होने की संभावना है। जिसमें तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, रायलसीमा, केरल और माहे और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक शामिल हैं।