देश के अधिकांश इलाकों में सर्द हवाएं कहर बरपा रही है। वही बारिश का कहर ढहाने से लोगों को दौहरी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इसी के साथ उत्तर भारत के कई क्षेत्रों में साल के शुरूआत से ही ठंड बढ़ गई है। मौसम विभाग के मुताबिक, अगले कुछ दिन सर्दी इसी तरह जारी रह सकती है। राजस्थान के शेखावाटी में न्यूनतम तापमान शून्य से भी नीचे चला गया है। राजस्थान का सबसे गर्म इलाके चूरू और फतेहपुर में ठंड अपना कहर बरपा रही है।

वहीं, उत्तर प्रदेश, बिहार, पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में कोल्ड डे से लेकर अत्यधिक कोल्ड डे की स्थिति संभव है। पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और उत्तर-पश्चिम राजस्थान के कुछ हिस्सों में बहुत घना कोहरा छा सकता है। पूर्वी मध्य प्रदेश,पूर्वी राजस्थान और त्रिपुरा एक-दो जगहों पर घना कोहरा हो सकता है।

राजस्थान में ऑरेंज अलर्ट

मौसम विभाग की मानें तो राजस्थान सीजन में कोहरे का पहला ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। अधिकतर जिलों में 6 जनवरी तक कोहरा छाया रहेगा। फतेहपुर पर बुधवार को तापमान माइनस 0.7 डिग्री दर्ज किया गया है. मंगलवार को यहां न्यूनतम तापमान माइनस 1 डिग्री दर्ज किया गया था. ऐसे में फतेहपुर शेखावाटी में विजिबिलिटी करीब 25 से 30 मीटर है। शेखावाटी और चूरू में मंगलवार को पारा माइनस में दर्ज हुआ। शेखावाटी के खेतों में फसलों पर बर्फ की बूंदें जमने लगी हैं।

शेखावटी में शून्य से नीचे पहुंचा तापमान

शेखावाटी में सर्दी का आलम यह रहा है कि रात को लोहे की चद्दरों पर पानी था जो सवेरे बर्फ की तरह जम गया है। सवेरे 11 बजे तक शेखावाटी कोहरा छाया रहा, जिसके चलते वाहन चालकों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। गर्मी महीने में यहा तापमान 50 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है। वहीं जनवरी में ये सभी इलाके बर्फिस्तान बना हुआ है।

आज भी तापमान में गिरावट संभव

मौसम विभाग मुताबिक 4 जनवरी यानी बुधवार को शेखावटी और चूरू में भीषण ठंड पड़ने की आशंका है। चूरू में तापमान 0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जा सकता है। वहीं, शेखावटी में ये तापमान आज फिर शून्य से नीचे जाने का अनुमान हैं।

इन राज्यों में कोल्ड वेव की स्थिति

मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के अनुसार, उत्तरी राजस्थान और हरियाणा के कुछ हिस्सों में कुछ स्थानों पर शीतलहर से लेकर गंभीर शीत लहर की स्थिति हो सकती है। पंजाब हरियाणा, उत्तर प्रदेश और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में शीत लहर चल सकती है। इन सभी राज्यों में अगले कुछ दिन कोल्ड डे की स्थिति बनी रहेगी।

दिल्ली का ये है मौसम

उत्तर प्रदेश में सर्द हवाओं के चलते ठिठुरन ज्यादा महसूस हो रही है। देश की राजधानी दिल्ली में आज न्यूनतम तापमान 8 डिग्री और अधिकतम 17 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। हालांकि, इस दौरान AQI स्तर में भी ज्यादा सुधार होने की संभावना नहीं है। बता दें पिछले दो दिनों से दिल्ली में AQI स्तर 350 यानी बहुत खराब की श्रेणी में बना हुआ है।

उत्तर भारत के अन्य राज्यों के पारे में भी गिरावट

लखनऊ में पिछले दो दिनों में पारे में गिरावट दर्ज की जा रही है। मंगलवार यानी 3 जनवरी को लखनऊ में न्यूनतम पारा 6 डिग्री दर्ज किया गया था। आशंका है कि 4 जनवरी को भी पारा 6 डिग्री के आसपास बना रहेगा। वहीं, चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री और पटना में 10 डिग्री सेल्सियस के आसपास दर्ज किया गया।

अगले 24 घंटे मौसम का ये रहेगा हाल

मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान, आंध्र प्रदेश, तटीय तमिलनाडु और अंडमान निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश संभव है। उत्तरी राजस्थान और हरियाणा के कुछ हिस्सों में कुछ स्थानों पर शीतलहर से लेकर गंभीर शीतलहर की स्थिति हो सकती है। पंजाब और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में शीत लहर चल सकती है।

इन राज्यों में शीतलहर का अलर्ट

मौसम विभाग की मानें तो हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्तरी राजस्थान के कई इलाकों में शीतलहर का कहर जारी रहने वाला है। इन राज्यों में आनेवाले 4 से 5 दिनों तक शीतलहर लोगों की मुश्किलें बढ़ा सकती है। वहीं, उत्तर प्रदेश के भी कुछ इलाकों में शीतलहर चल सकती है।

पहाड़ों पर माइनस में तापमान

कड़ाके की ठंड ने पूरी कश्मीर घाटी को जकड़ रखा है. लेह और कारगिल में पारा -15 डिग्री से नीचे दर्ज किया गया है। श्रीनगर में आज न्यूनतम तापमान -4 डिग्री और अधिकतम तापमान 9 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं, कल यानी 4 जनवरी को कश्मीर में न्यूनतम तापमान -5 डिग्री और अधिकतम तापमान 9 डिग्री दर्ज किया जा सकता है। मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट की मानें तो कश्मीर में 07 जनवरी तक कड़ाके की ठंड और तीखी होने वाली है। हिमाचल प्रदेश से उत्तराखंड तक बर्फीली हवाओं के चलते लोग परेशान हैं। बता दें, IMD ने तमिलनाडु के तटीय क्षेत्रों में 3 से 5 जनवरी के बीच बारिश का पूर्वानुमान जताया है।

स्कूलों पर भी कोहरे का असर

मौसम को देखते हुए लखनऊ में 4 जनवरी से 7 जनवरी तक सभी स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया है। मौसम विभाग की चेतावनी के चलते डीएम ने यह आदेश दिया है। सभी बोर्ड के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों के लिए ये आदेश है। इसके साथ ही कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों पर भी आदेश लागू होगा। बच्चों को ध्यान में रखते हुए कई राज्यों में स्कूलों में छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं तो कई राज्यों में स्कूल के समय में बदलाव किया गया है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी शीतलहर के चलते स्कूल बंद किए गए हैं। ये आदेश बच्चों के साथ-साथ, टीचर्स और नॉन टीचिंग स्टाफ के लिए भी है।

यातायात पर भी असर

कोहरे के चलते रेलवे पर भी असर दिखाई पड़ रहा है। कई ट्रेनें बहुत देरी से चल रही हैं. इससे आम जनता पर काफी असर पड़ रहा है। इसके अलावा कल शाम दिल्ली आ रहीं 5 फ्लाइट्स को डाइवर्ट कर दिया गया। ये सभी फ्लाइट्स कोहरे के चलते जयपुर को डाइवर्ट की गईं।