IIM इंदौर ने हासिल किया ट्रिपल एक्रिडिटेशन, बना देश का दूसरा ट्रिपल क्राउन

0
21

भारतीय प्रबंध संस्थान इंदौर (IIM इंदौर) को EFMD द्वारा गुणवत्ता विकास प्रणाली (EQUIS) प्रत्यायन से सम्मानित किया गया है, जो प्रबंधन विकास के लिए विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त अंतर्राष्ट्रीय संगठन है। EQUIS प्रत्यायन बोर्ड ने 10 दिसंबर, 2019 को आईआईएम इंदौर में EQUIS प्रत्यायन से सम्मानित करने के लिए मतदान किया। आईआईएम इंदौर ‘ट्रिपल क्राउन’ मान्यता प्राप्त करने वाला देश का दूसरा आईआईएम है, यह संस्थान के लिए गौरव की बात है। अर्थात संस्थान को एमबीए की एसोसिएशन (एएमबीए, यूके) व्यवसाय के उन्नत कॉलेजिएट एसोसिएशन (AACSB, संयुक्त राज्य अमेरिका) और EQUIS, यूरोपीय संघ सहित तीनों प्रमुख मान्यताएं प्राप्त है। प्रत्यायन मान्यता का यह संयोजन दुनिया के एक प्रतिशत से भी कम बिजनेस स्कूलों को प्राप्त है जिसे सबसे बड़े और सबसे प्रभावशाली बिजनेस स्कूल मान्यता एजेंसियों द्वारा दिया जाता है। मार्च, 2019 तक बिजनेस डिग्री प्रोग्राम प्रदान करने वाले 13,000+ स्कूलों में से ट्रिपल क्राउन केवल 90 बिजनेस स्कूलों को ही प्राप्त हुआ है।

प्रो. हिमांशु राय, निदेशक भा.प्र.सं.इंदौर ने अपने एक वकतव्य में बताया कि इस मान्यता को प्राप्त कर हम विश्व के उन 100 से भी कम देशों में शामिल हो गए है जिन्हें ट्रिपल प्रत्यायन होने का गौरव प्राप्त है। यह हमारे संस्थान द्वारा वर्षों की कड़ी मेहनत की परिणति का प्रतीक है, जिसका एकल लक्ष्य विश्व स्तरीय संस्थान के रूप में उभर कर वैश्विक बेंचमार्क का उपयोग करते हुए राष्ट्र निर्माण अपना महत्वपूर्ण योगदान दाना है।

दुनिया भर के बिजनेस स्कूल सामाजिक रूप से जागरूक पाठ्यक्रमों और कार्यक्रमों के लिए आईआईएम इंदौर की ओर देख रहे हैं। हमे, हमारे ग्रामीण कार्यक्रमों और हिमालयन आउटबाउंड कार्यक्रम के लिए भी सम्मानित किया गया है, और देश भर के छात्र हमारे इन कार्यक्रमों में हमसे जुड़ना चाहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि EQUIS मान्यता और ट्रिपल क्राउन हमें दुनिया के बिजनेस स्कूलों में एक पसंदीदा स्थान बना देगा। ‘

EQUIS मान्यता, व्यवसाय और प्रबंधन स्कूलों के लिए सबसे व्यापक संस्थागत मान्यता प्रणाली है। यह दुनिया भर में संभावित छात्रों, संकाय, नियोक्ता, कॉर्पोरेट ग्राहकों और मीडिया द्वारा स्वीकार किया जाता है। यह अक्सर रैंकिंग में प्रवेश के लिए एक पूर्व-आवश्यक शर्त होती है। EQUIS मान्यता एक कठोर गुणवत्ता नियंत्रण सुनिश्चित करती है, जो कि शासन, कार्यक्रमों, छात्रों, संकाय, अनुसंधान, अंतर्राष्ट्रीयकरण, नैतिकता, जिम्मेदारी और स्थिरता के साथ-साथ अभ्यास की दुनिया के साथ जुड़ाव के मामले में अंतरराष्ट्रीय मानकों को स्थापित करती है। EQUIS की गतिविधियों में डिग्री और गैर-डिग्री कार्यक्रम, ज्ञान सृजन और समुदाय में योगदान शामिल है। वर्तमान में एशिया में सिर्फ 40 स्कूल हैं जिन्हें EQUIS प्रत्यायन प्राप्त की मान्यता प्राप्त है।

1996 में स्थापित, आईआईएम इंदौर ने अपने शानदार 23 साल पूरे किए हैं और कई मील के पत्थर हासिल किए हैं, वर्ष 2019 में एनआईआरएफ में गर्व के साथ रैंक 5 पर खड़ा है। संस्थान ने एफटी रैंकिंग 2019 में भी शीर्ष 100 रैंक हासिल की है और भारतीय बिजनेस स्कूलों के लिए वर्ल्ड क्यूएस रैंकिंग 2019 में 101+ बैंड में स्थान प्राप्त किया है।

संस्थान को पहली मान्यता, एमबीए के एसोसिएशन (एक यूके-आधारित मान्यता प्राप्त एजेंसी) से इसके चार पूर्णकालिक कार्यक्रमों – प्रबंधन में दो साल का स्नातकोत्तर कार्यक्रम (इंदौर और मुंबई दोनों में), एक साल का पूर्णकालिक कार्यकारी स्नातकोत्तर कार्यक्रम प्रबंधन (EPGP) और वर्ष 2016 में प्रबंधन (IPM, 4th और 5th वर्ष) में पांच साल का एकीकृत कार्यक्रम के लिए प्राप्त हुई थी। आईआईएम इंदौर को नवंबर 2019 में अगले पांच वर्षों के लिए AMBA से पुन: मान्यता प्राप्त हुई।

दूसरी प्रतिष्ठित मान्यता, जनवरी 2019 में एसोसिएशन टू एडवांस कॉलेजिएट स्कूलों के बिजनेस इंटरनेशनल (AACSB) से प्राप्त हुई। AACSB बिजनेस स्कूलों के लिए सबसे लंबे समय तक सेवारत वैश्विक मान्यता प्राप्त निकाय है, और दुनिया भर में छात्रों, शिक्षकों और व्यवसायों को जोड़ने वाला सबसे बड़ा बिजनेस एजुकेशन नेटवर्क है। आज, 54 देशों में 831 संस्थान AACSB प्रत्यायन मान्यता रखते हैं।

EQUIS द्वारा प्राप्त तीसरी मान्यता, आईआईएम इंदौर को न केवल आईआईएम इंदौर को ट्रिपल क्राउन ’स्कूल बनाता है, बल्कि आईआईएम कलकत्ता के बाद यह मान्यता प्राप्त करने वाला दूसरा आईआईएम है।
उच्च गुणवत्ता प्रबंधन शिक्षा और प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से, आईआईएम इंदौर विश्व स्तर के शैक्षणिक मानकों के साथ एक प्रासंगिक व्यावसायिक स्कूल बनना चाहता है जो सामाजिक रूप से जागरूक प्रबंधकों, नेताओं और उद्यमियों को विकसित करता है।

इस उद्देश्य के साथ, संस्थान यह सुनिश्चित करता है कि संकाय सदस्यों और प्रतिभागियों को अनुसंधान के लिए और छात्र विनिमय के माध्यम से वैश्विक मानक प्राप्त हो। वर्ष 2019 में, आईआईएम इंदौर ने प्रसिद्ध विदेशी संस्थानों के साथ कई समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए हैं, जैसे कि क्वींसलैंड विश्वविद्यालय (व्यवसाय, अर्थशास्त्र और कानून के संकाय); एमआईपी पोलिटेकनिको डी मिलानो ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस,इटली; और लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी,मसूरी,भारत। संस्थान ने बेनेट, कोलमैन के तहत टाइम्स प्रोफेशनल लर्निंग, कं लिमिटेड & वीसीनाउ जो कार्यकारी शिक्षा के क्षेत्र में शिक्षा के अग्रणी प्रदाताओं में से एक है, के साथ एकीकृत सहयोग सेवाओं के तहत एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

संस्थान नवीन विचारधारा में विश्वास करता है और प्रबंधन में स्नातक कार्यक्रम – पांच वर्षीय एकीकृत कार्यक्रम की पेशकश करने वाला पहला आईआईएम बन गया। संस्थान ने अपने ग्रामीण कार्यक्रमों (आरईपी) के लिए 01 फरवरी, 2019 को बिजनेस स्कूल इंपैक्ट की श्रेणी में एमबीए (एएमबीए) बिजनेस एक्सीलेंस अवार्ड 2019 का पुरस्कार जीता, जो कि प्रतिभागियों के सीखने के नेतृत्व, वास्तविक जीवन की स्थितियों में काम करना और टीम बनाना तथा निर्णय में मदद करने पर केंद्रित है। आईआईएम इंदौर ने एमबीए इनोवेशन श्रेणी के तहत हिमालयन आउटबाउंड प्रोग्राम के लिए प्रशंसा पत्र भी प्राप्त किया। आईआईएम इंदौर द्वारा वर्तमान में, मुंबई और इंदौर में कई शैक्षणिक और कार्यकारी कार्यक्रम पेश किए गए हैं। संस्थान ने दुबई में कार्यकारी अधिकारियों के लिए एक सामान्य प्रबंधन कार्यक्रम भी शुरू किया है – जो सप्ताहांत पर इंदौर परिसर में आयोजित किया जाता है।

संस्थान समग्र रूप से समाज और राष्ट्र निर्माण में योगदान करने में विश्वास रखता है। वृक्षारोपण अभियान चलाकर और परिसर को प्लास्टिक मुक्त बनाकर पर्यावरण की रक्षा हेतु अपनी प्रतिबध्यता को दूहरा रहा है। मध्य प्रदेश सरकार के साथ मिलकर इंदौर शहर की यातायात व्यवस्था में सुधार के लिए अपना योगदान दिया है। संस्थान, अपने आसपास के प्रत्येक व्यक्ति एवं समाज के विकास तथा जीवन की गुणवत्ता को बढ़ाने में आगे बढ़ कर सदैव अपना योगदान देता रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here