श्रीनगर। कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ इन दिनों जम्मू-कश्मीर में सफर कर रही है। राहुल गांधी ने इस दौरान पार्टी के पूर्व नेता गुलाम नबी आजाद से माफी मांगी है। राहुल ने कहा, अगर मैंने कभी गुलाम नबी आजाद और चौधरी लाल सिंह को दुख पहुंचाया हो, तो मैं उनसे माफी मांगता हूं। राहुल ने कहा कि अगर मेरी वजह से कभी भी उनको तकलीफ पहुंची हो तो मैं इसके लिए माफी मांगता हूं।

प्रेस वार्ता (press conference) के दौरान राहुल गांधी ने गुलाम नबी आजाद, पूर्व मंत्री चौधरी लाल सिंह व अन्य क्षेत्रीय दलों को भारत जोड़ो यात्रा में अधिक महत्व न देने के सवाल पर कहा, वह पूर्व मंत्री लाल सिंह की भावनाओं की सराहना करते हैं। उन्होंने यात्रा का स्वागत किया। गुलाम नबी आजाद के 90 प्रतिशत नेता उनकी पार्टी में ही हैं।

Also Read – एअर इंडिया पर DGCA ने लगाया 10 लाख का जुर्माना, जानिए अब क्यों हुई ये कार्रवाई

वहीं इस दौरान दिग्विजय सिंह के सेना की सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर दिए बयान को लेकर भी राहुल ने साफ किया। राहुल ने कहा कि यह तो उनका निजी बयान है। मैं सेना के शौर्य पर सवाल नहीं उठा सकता। दरअसल, मंगलवार को दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाया था।

राहुल ने कहा, जो दिग्विजय सिंह ने कहा उससे वे सहमत नहीं है। राहुल गांधी ने कहा कि मुझे आर्मी पर पूरा भरोसा (full confidence in army) है। देश की आर्मी जो भी ऑपरेशन करे, उसका सबूत देने की जरूरत नहीं है। इतना ही नहीं राहुल ने इस दौरान गुलाम नबी आजाद से भी माफी मांगी।

राहुल गांधी ने कहा, गुलाम नबी आजाद की पार्टी के ज्यादातर लोग तो हमारे साथ बैठे थे। 90% लोग तो कांग्रेस में शामिल हो गए। बस उस तरफ सिर्फ गुलाम नबी आजाद रह गए। मैं गुलाम नबी आजाद का सम्मान करता हूं। अगर मैंने उन्हें किसी तरह से कोई दुख पहुंचाया हो, तो मैं उनसे माफी मांगता हूं।