इस दिन मनाई जाएगी होली, ये है महत्व-शुभ मुहूर्त

हमारे प्रमुख त्यौहारों में से एक होली भी है। रंग और उल्लास के इस त्यौहार पर बच्चे से लेकर बूढ़े तक होली के रंग में रंग जाते हैं। होली को लेकर सभी वर्गों के लोगों में विशेष उत्साह रहता है।

0
holi-festiwal

हमारे प्रमुख त्यौहारों में से एक होली भी है। रंग और उल्लास के इस त्यौहार पर बच्चे से लेकर बूढ़े तक होली के रंग में रंग जाते हैं। होली को लेकर सभी वर्गों के लोगों में विशेष उत्साह रहता है। देशभर में धूमधाम से युवा, बच्चे, महिला-पुरूषों द्वारा एक-दूसरे को रंग-गुलाल लगाकर होली मनाते हैं। इस दिन को खास व्यंजनों का लुत्फ उठाते हुए डीजे, ढोल और म्यूजिक पर थिरकते हुए मौके को खास बना दिया जाता है।

holi festival

रंगो के इस पावन त्योहार का हिंदू धर्म में बहुत अधिक महत्व है। इस साल 10 मार्च यानि मंगलवार को रंगो का त्योहार होली मनाई जाएगी और 9 मार्च, सोमवार को होलिका दहन किया जाएगा। हम होलिका दहन बुराई पर अच्छाई की जीत के लिए मनाते है। इसके पीछें जुड़ीं पुराणिक कथा है। हिरण्यकश्यप की बहन होलिका का दहन बिहार की धरती पर हुआ था। तभी से प्रतिवर्ष होलिका दहन की परंपरा की शुरुआत हुई।

holika dahan-

होलिका दहन का शुभ मुहूर्त

Holika dahan

संध्या काल में : 06 बजकर 22 मिनट से 8 बजकर 49 मिनट तक
भद्रा पुंछा : सुबह 09 बजकर 50 मिनट से 10 बजकर 51 मिनट तक
भद्रा मुखा : सुबह 10 बजकर 51 मिनट से 12 बजकर 32 मिनट तक