एक बार फिर गरीबोें पर मार, रेपो-रेट दर में इजाफा, महंगी होगी ईएमआई

बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के चलते भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी की बैठक हुई। जिसमें रेपो रेट दर बढ़ने का निर्णय लिया गया हैं, जो 0.50 प्रतिशत बढ़ाने के बाद 4.90 फिसदी हो गया हैं।

बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के चलते भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी की बैठक हुई। जिसमें रेपो रेट दर बढ़ने का निर्णय लिया गया हैं, जो 0.50 प्रतिशत बढ़ाने के बाद 4.90 फिसदी हो गया हैं। इस फैसले के बाद सरकारी, निजी बैंक और हाउसिंग फाइनैंस कंपनियां होम लोन के ब्याज दरों में परिवर्तन करेंगे, उसके बादके बाद आपकी ईएमआई पहले से ओर महंगी हो जाएगी। इससे पहले भी 4 मई और 8 जून 2022 को रेपो रेट में बदलाव किए जो अब कुल 90 बेसिस प्वाइंट की बैंक से लेकर हाउसिंग फाइनैंस कंपनियों ने होम लोन पर ब्याज दरों में 0.90 फीसदी से लेकर 1.15 फीसदी तक कर्ज महंगा कर दिया है। यह तिसरी बार बदलाव हुआ है।

आरबीआई के रेपो रेट बढ़ाने के फैसले के बाद हाउसिंग फाइनैंस कंपनियों से लेकर बैंक कर्ज महंगा करेंगी. और महंगे कर्ज का सबसे बड़ा खामियाजा उठाना पड़ेगा उन लोगों को जिन्होंने हाल के दिनों में बैंक या हाउसिंग फाइनैंस कंपनियों से होम लोन लेकर अपना आशियाना खरीदा है। आरबीआई ने रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी करने का फैसला लिया है जो कि अब 5.40 फीसदी हो गया है। लेकिन बीते तीन महीने में आरबीआई ने 1.40 फीसदी कर्ज मंहगा कर दिया है। आइए डालते हैं नजर कुल 1.40 फीसदी रेपो रेट बढ़ाने के बाद तीन महीनों में कितनी आपके होम लोन की ईएमआई महंगी कितनी महंगी होने जा रही है।

Also Read : MP News : स्वास्थ्य एवं पोषण के क्षेत्र में बड़वानी को मिला पहला स्थान, जिले में हुए कार्यों की हुई सराहना

मान लिजिए आपने 20 लाख रुपये का होम लोन 20 साल के लिए 6.85 फीसदी ब्याज दर पर लिया हुआ था तो आपको 15,326 रुपये ईएमआई देना पड़ रहा था। लेकिन तीन बार रेपो रेट में कुल 1.40 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी होने के बाद होम लोन पर ब्याज दर बढ़कर 8.25 फीसदी हो जाएगा जिसके बाद आपको 17,041 रुपये ईएमआई चुकाना होगा। यानि तीन महीने में 1715 रुपये ज्यादा ईएमआई महंगा हो जाएगा. पूरे साल में आपकी जेब पर 20,580 रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा।

अगर आपने 40 लाख रुपये का होम लोन 6.95 फीसदी ब्याज दर पर 15 साल के लिए लिया हुआ है तो आपको फिलहाल 35,841 रुपये ईएमआई देना पड़ता है। लेकिन 1.40 फीसदी रेपो रेट बढ़ने के बाद ब्याज दर बढ़कर 8.35 फीसदी हो जाएगा जिसके बाद आपको 38,806 रुपये ईएमआई चुकाना होगा। यानि हर महीने 2965 रुपये ज्यादा ईएमआई का भुगतान करना होगा। और पूरे साल में जोड़ दें तो 35,580 रुपये ज्यादा ईएमआई देना होगा।

अगर आपने 50 लाख रुपये का होम लोन 7.25 फीसदी के ब्याज पर 20 साल के लिए लिया हुआ है तो आपको फिलहाल 39,519 रुपये ईएमआई चुकाना पड़ रहा है। लेकिन रेपो रेट में 1.40 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद होम लोन पर ब्याज दर बढ़कर 8.65 फीसदी हो जाएगा जिसके बाद 43,867 रुपये ईएमआई चुकाना होगा। हर महीने 4348 रुपये ज्यादा ईएमआई का भुगतान करना होगा और एक साल में आपकी जेब पर 52,176 रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा।

क्या और महंगी होगी ईएमआई

बहरहाल आरबीआई ने तीन चरणों में रेपो रेट में 1.40 फीसदी का इजाफा कर दिया है। माना जा रहा है कि जिस प्रकार कच्चा तेल समेत अन्य कमोडिटी के दामों में कमी आ रही है उसके बाद आरबीआई को भविष्य में कर्ज महंगा ना करना पड़े।