Sidhu Moose Wala की अंतिम अरदास पर रो पड़े पिता, नम आंखों से कही ये बात

पंजाबी सिंगर Sidhu Moose Wala की अंतिम अरदास आज आयोजित की गई. इस दौरान अपने बेटे को याद करते हुए माता-पिता दोनों का बुरा हाल था.

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसे वाला (Sidhu Moose Wala) ने हमेशा के लिए इस दुनिया को अलविदा कह दिया है. अपने बेहतरीन गानों की वजह से वह हमेशा लोगों के दिलों में जिंदा रहने वाले हैं. सिद्धू के लिए आज अंतिम अरदास रखी गई थी जहां उनके माता-पिता काफी उदास नजर आए और नम आंखों से अपने बेटे को याद करते दिखाई दिए.

सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moose Wala) के पिता बलकार सिंह इस दौरान अपने बेटे को याद करते हुए यह कहते नजर आए कि मेरा बेटा एक साधारण और सीधा साधा इंसान था. स्कूल जाने के लिए वह दूसरी क्लास से 12वीं क्लास तक रोज 24 किलोमीटर साइकिल चलाता था. क्योंकि पहले गांव से बस नहीं जाया करती थी. हमारे पास ज्यादा जमीन और पैसा नहीं था, लेकिन उसने अपनी मेहनत से सब कुछ हासिल किया.

Must Read- Mithali Raj ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया सन्यास, 23 साल के सफर को दिया विराम

उन्होंने आगे कहा कि मेरा बेटा कभी अपने पर्स में पैसे नहीं रखता था, जब भी उसे जरूरत होती वह मुझसे मांगता था. लेकिन पता नहीं वह मनहूस दिन कहां से आ गया जब वो हमें छोड़ कर चला गया. बता दें कि 29 मई को मूसेवाला पर लगभग 30 गोलियां चला कर उनकी हत्या कर दी गई थी. यह दिन हमेशा ही उनके परिवार और फैंस के लिए बुरा दिन रहेगा.

जिस दिन सिद्धू (Sidhu) पर हमला हुआ उस दिन के बारे में बात करते हुए उनके पिता ने कहा कि मैं भी उसके साथ जाना चाहता था, लेकिन वह मुझे साथ नहीं ले गया और उसने मुझसे कहा कि आप खेत से आए हो आराम करो. अपने बेटे को याद करते हुए पिता ने यह कहा कि मुझे नहीं पता कि उसका क्या कसूर था. उसने कभी किसी का बुरा नहीं किया अगर कोई खतरा होता तो वह अकेले नहीं जाता. इस दौरान सिद्धू के पिता ने यह भी कहा कि सोशल मीडिया पर काफी बढ़ा चढ़ाकर चीजें बताई जा रही है. मैं अपील करता हूं कि इस तरह से उसके बारे में स्टोरी को बढ़ा चढ़ा कर ना दिखाएं.

सिंगर की आखिरी अरदास के समय उनकी मां काफी इमोशनल नजर आई. सिद्धू की मां चरण कौर ने अपने बेटे को याद करते हुए यह कहा कि 29 मई के दिन मेरा सब कुछ खत्म हो गया. जिसने इस दुख में मेरा साथ दिया मैं उसका तहे दिल से धन्यवाद करती हूं. आप लोगों ने जो हौसला दिया, उससे मुझे हिम्मत मिली है और मैं हमेशा सिद्धू को आपके बीच जिंदा रखने की कोशिश करूंगी.

बता दें कि सिद्धू मूसे वाला(Sidhu Moose Wala) हत्याकांड की जांच पुलिस लगातार कर रही है. इस मामले में अभी तक 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इस हत्याकांड की सुपारी गैंगस्टर गोल्डी बरार कनाडा से दी थी. इस केस में गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का नाम भी सामने आया है. वही परिवार ने इस केस की सीबीआई और एनआईए जांच की मांग की है.