फ्लाइट रद्द होती है तो भी अब चिंता की बात नहीं

नई दिल्ली: यदि अब एयर इंडिा या फिर  एयर एशिया इंडिया की फ्लाइट्स किसी कारणवश निरस्त होती है तो भी इनके यात्रियों को अपनी यात्रा कैसिंल करने के लिए चिंता की बात नहीं होगी।

नई दिल्ली: यदि अब एयर इंडिाया फिर एयर एशिया इंडिया की फ्लाइट्स किसी कारणवश निरस्त होती है तो भी इनके यात्रियों को अपनी यात्रा कैसिंल करने के लिए चिंता की बात नहीं होगी। दरअसल इन कंपनियों ने ऐसी स्थिति में एक दूसरे के विमानों में यात्रियों को सीट देने का निर्णय लिया है।

बता दें कि अभी तक यह स्थिति रहती थी कि यदि किसी भी कारण से उड़ान रद्द हो जाती थी तो फिर संबंधित यात्री को अपनी यात्रा के लिए या तो अन्य साधन का सहारा लेना पड़ता था या फिर जब उड़ान फिर से शुरू होती तब यात्रा करना मजबूरी रहती थी, लेकिन फिलहाल इन दोनों विमान संचालक कंपनियों के यात्रियों के साथ ऐसा नहीं होगा।

यह भी पढ़े – Bigg Boss के सेट पर आग लगने से मचा बवाल, मौके पर पहुंची दमकल की 4 गाड़ियां

2024 तक का एग्रीमेंट

टाटा समूह की तरफ से यह कहा गया है कि दोनो विमान कंपनियों के बीच इस तरह का यह एग्रीमेंट 9 फरवरी 2024 तक के लिए किया गया है। समूह के अधिकारियों का यह कहना है कि अब हमारे यात्रियों को यात्रा करने के लिए परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

यह भी पढ़े – MPPSC Recruitment 2022: 14 से 24 फरवरी तक फिर खुलेगी आवेदन की ऑनलाइन लिंक, यहां से करें आवेदन

अब कुल 4 एयरलाइंस है

गौरतलब है कि बीते दिनों ही टाटा समूह ने एयर इंडिया के साथ ही एयर एशिया एक्सप्रेस को भी टेकओवर किया है। इन दोनों के बाद समूह के पास चार एयरलाइंस हो गई है। बता दें कि इसके पहले टाटा समूह के पास एयर एशिया इंडिया व विस्तारा पर नियंत्रण है। एयर इंडिया और एयर एशिया इंडिया के बीच आपसी सहयोग की दिशा में उठाया गया यह पहला कदम है । इसके लिए दोनों एयरलाइंस में एक इंटरलाइन, कंर्सिडरेशंस ऑन इर्रेगुलर ऑपरेशन  एग्रीमेंट हुआ है।