ट्विटर के नए मालिक एलन मस्क ने हाल ही में 50 फीसदी से अधिक कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया और फिर कुछ को काम पर वापस बुलाया गया। अब बाकी बचे ट्विटर कर्मचारियों को अतिरिक्त काम का दबाव बनाया जा रहा है। कहा जा रहा है कि ट्विटर के नए बॉस मस्क ने कर्मचारियों को हफ्ते में 80 घंटे काम करने के लिए चेताया है।

साथ ही ये भी दावे कि जा रहे हैं कि कर्मचारियों को मिलने वाला फ्री फूड यानी मुफ्त खाने की सुविधा भी खत्म की जाएगी। वहीं वर्क फ्रॉम होम की सुविधा को भी बंद कर दिया गया है। बता दें कि ट्विटर ने शुक्रवार को ब्लू टिक सब्सक्राइबर सेवा को भी रोक दिया है।

एलन मस्क ने फरमान जारी करते हुए कहा है कि जो भी कर्मचारी ऑफिस नहीं आएगा, यह मान लिया जाएगा कि उसने इस्तीफा दे दिया है। अभी हाल ही में ट्विटर ब्लू वेरिफिकेशन को लेकर मस्क ने कर्मचारियों को अल्टीमेटम देते हुए पेड वेरिफिकेशन की डेडलाइन को जल्द पूरा करने का आदेश दिया था। साथ ही मस्क का यह भी कहना था कि अगर अधिकारी अपनी डेडलाइन को पूरा नहीं करते हैं, तो उनकी छुट्टी कर दी जाएगी।

दरअसल मस्क को तमाम बदलाव के बीच कंपनी के दिवालिया होने की चिंता सता रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, कर्मचारियों के साथ हुई मीटिंग में एलन मस्क ने कहा है कि ट्विटर के दिवालिया होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मस्क ने दो हफ्ते पहले ट्विटर को 44 अरब डॉलर में खरीदा था और उसके बाद ही कई क्रेडिट एक्सपर्ट्स ने कहा था कि इस महंगे सौदे का सीधा असर ट्विटर की वित्तीय स्थिति पर पड़ेगी।

बता दें कि ट्विटर के मालिक बनते ही मस्क ने कई बड़े बदलाव करना शुरू कर दिया। सबसे बड़े बदलाव के रूप में ब्लू सब्सक्रिप्शन के लिए पेड सुविधा को शामिल करना है। जैसे ही एलन मस्क ने पेड ब्लू टिक का इशारा किया था, सोशल मीडिया पर इसका जमकर विरोध हुआ था। एक लेखक Stephen King ने पेड ब्लू टिक का विरोध करते हुए मस्क को गाली तक दे डाली थी। वहीं मस्क ने ट्विटर की कमान संभालते ही ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी पराग अग्रवाल समेत कई शीर्ष अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया था।