अवैध खनन के मामले में प्रेमप्रकाश को ED ने किया गिरफ्तार,रांची से हुई गिरफ्तारी,छापे में घर से AK-47 बरामद

अवैध खनन मामले में रांची में बुधवार को ईडी  की छापेमारी के बाद प्रेम प्रकाश  को गिरफ्तार कर लिया गया है। ईडी ने अवैध खनन से जुड़े मामले में मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट के तहत प्रेम प्रकाश को गिरफ्तार किया है।

अवैध खनन मामले में रांची में बुधवार को ईडी  की छापेमारी के बाद प्रेम प्रकाश  को गिरफ्तार कर लिया गया है। ईडी ने अवैध खनन से जुड़े मामले में मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट के तहत प्रेम प्रकाश को गिरफ्तार किया है। सीएम हेमंत सोरेन के करीबी कहे जाने वाले प्रेम प्रकाश के घर से कल दो एके 47 बरामद किया गया है। देर रात प्रेम प्रकाश को अरेस्ट कर लिया गया। हालांकि, ईडी की ओर से अभी इसको लेकर आधिकारिक बयान नहीं जारी किया गया है।

रांची में प्रेम प्रकाश के ठिकानों पर सुबह छह बजे शुरू हुई छापेमारी रात करीब 12 बजे तक यानी 18 घंटे तक चली। ईडी प्रेम प्रकाश से गुप्त ठिकानों पर पूछताछ कर रही है। इसके अलावा सासाराम में प्रेम प्रकाश के रिश्तेदारों के दो ठिकानों पर भी रेड डाली गई। सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई के हाथ कई ऐसे दस्तावेज लगे हैं, जिनसे पीपी के संबंध अवैध खनन से जुड़े हैं।छापे के दौरान रांची के हरमू स्थित प्रेमप्रकाश उर्फ पीपी के किराए के मकान शैलोदय से दो एके 47 रायफल, मैगजीन और 60 गोलियां मिली हैं। पुलिस ने कबूल किया है कि दोनों एके 47 रांची पुलिस के हैं। इस मामले में दो आरक्षियों को निलंबित भी कर दिया गया है।

Also Read – इस शुभ योग में होगी गणेश चतुर्थी, जानें गणपति स्थापित करने का शुभ समय और पूजा विधि

इससे पहले 25 मई को भी प्रेम के कई ठिकानों पर छापेमारी की गई थी। इसके बाद 26 मई को ईडी ने प्रेम को पूछताछ के लिए बुलाया था। यहां बता दें कि नेताओं व अफसरों से प्रेम प्रकाश की नजदीकियां हमेशा से चर्चा में रहीं है।एके 47 की बरामदगी के बाद ईडी के ज्वाइंट डायरेक्टर स्तर के अधिकारी मौके पर पहुंचे। वहीं रांची पुलिस के सार्जेंट मेजर अभिनव पाठक व अरगोड़ा थानेदार भी पहुंचे। जांच के बाद बाहर निकलने पर अरगोड़ा थानेदार ने कबूल किया कि हथियार रांची पुलिस के हैं।

भाजपा सांसद निशिकांत दूबे ने मामले में चौंकाने वाला दावा किया है। उन्होंने कहा है कि प्रेम के जिस फ्लैट में हथियार मिले हैं, वह पिछले 25 दिनों से बंद था। सांसद ने दावा किया है कि एनआईए इस मामले में जांच करेगी तो पूरे महकमे में भूचाल आएगा।