सूखा रहा बारिश का पहला महीना, अभी भी भीषण घर्मी से परेशान ये राज्य

0
50
rain

नई दिल्ली: देशभर में मानसून काफी अस्त-व्यस्त नज़र आ रहा है। कई जगहों पर भारी बारिश के चलते सुकून मिल रहा है, तो कई जगहों पर अभी भी भीषण गर्मी की वजह से लोग परेशान हैं। गुजरात, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में भारी बारिश की वजह से बड़ी गंभीर स्थिति बन गई है। हाल ही में मुंबई में मानसून ने अपना जुलाई का कोटा ही पूरा कर लिया है। वहीं दिल्ली में लोग भीषण गर्मी से परेशान हो रहे हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक, पिछले 100 सालों में यह पांचवां जून का महीना है, जो सूखा रहा। इस महीने बारिश सिर्फ औसत से 35 फीसदी कम दर्ज हुई है। बता दें कि, आमतौर पर हर साल जून के महीने में करीब 151 मिलीमीटर बारिश होती है लेकिन इस बार ये आंकड़ा 97.9 मिलीमीटर ही रहा है।

बारिश न होने के कारण उत्तर भारत के ज्यादातर राज्य के लोग भीषण गर्मी से परेशान हो रहे हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़, बिहार और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में रविवार और सोमवार को लू चलने की संभावना है।

मौसम विभाग ने ऐसी उम्मीद जताई है कि, 30 जून के बाद मानसून अपनी रफ़्तार पकड़ लेगा। इस बात की काफी उम्मीद जताई जा रही है कि मानसून मध्य भारत और गुजरात के बाकी हिस्सों की तरफ अपना रुख मोड़ लेगा। कम दबाव होने के कारण जुलाई में मानसून अपनी रफ़्तार पकड़ लेगा। जुलाई का महीना खरीफ की फसल की बुआई के लिए महत्वपूर्ण होता है। इस महीने को सबसे अधिक बारिश वाला महीना भी माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here