इंदौर: ऑनलाईन ठगी की शिकायत पर क्राइम ब्रांच ने की कार्यवाही, वापस कराये आवेदकों के 1,25,000 रूपये

ठग द्वारा आवेदक को "बिजली बिल भुगतान" करने के नाम से फर्जी मैसेज कर झूठे विश्वास में लेकर ठगी की थी। ठग द्वारा आवेदक को Link भेजकर डेबिट कार्ड से पेमेंट प्रोसेस करवाकर OTP प्राप्त कर ऑनलाइन फ्राड किया था।

इंदौर: पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर हरिनारायणचारी मिश्र व्दारा इंदौर कमिश्नरेट में लोगों से छलकपट कर अवैध लाभ अर्जित करते हुये आर्थिक ठगी करने वाले एवं सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाकर आपत्तिजनक पोस्ट व हैकिंग करने वाले अपराधियों की पहचान कर विधिसंगत कार्यवाही करते हुये उनकी धरपकड़ करने हेतु प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। उक्त निर्देशों के अनुक्रम में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) राजेश हिंगणकर के मार्गदर्शन में पुलिस उपायुक्त (क्राइम ब्रांच) निमिष अग्रवाल एवं अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (क्राइम ब्रांच) गुरू प्रसाद पाराशर द्वारा ऑनलाईन ठगी एवं सोशल मीडिया संबंधी अपराधो की रोकथाम हेतु क्राइम ब्रांच फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन टीमों को लगाया गया है ।

क्राईम ब्रांच इंदौर की फ्रॉड इंन्वेस्टीगेशन सेल की टीम द्वारा आवेदक चंद्रशेखर निवासी इंदौर से फ्राड की संपूर्ण जानकारी लेकर जांच की जिसमे ज्ञात हुआ कि आवेदक के मोबाइल पर बकाया बिजली बिल तत्काल भुगतान करने अन्यथा बिल नहीं भरने पर बिजली कनेक्शन काटने के संबंध में फर्जी मैसेज ठग द्वारा भेजा गया था,भेजे गए फर्जी मैसेज में ठग द्वारा फर्जी संपर्क नंबर दिया गया था जिसपर आवेदक के द्वारा बिजली विभाग का नंबर समझकर कॉल किया और ठग व्यक्ति से संपर्क करते ठग ने आवेदक के मोबाइल पर लिंक भेजी और उसमे आवेदक से SBI bank के debit card की जानकारी भरवाकर 50 रुपए पेमेंट करने का बोलकर OTP प्राप्त करके ठग द्वारा आवेदक के खाते से कुल 1,25,000/– रुपए आहरित कर उक्त राशि को किसी अन्य बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर की थी ठगी की गई थी।

Must Read- 27वीं विश्व बैडमिंटन स्पर्धा में इस बार भारत को कौन दिलाएंगा पदक ?

जिसपर क्राईम ब्रांच फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन टीम द्वारा आवेदक से ट्रांजेक्शन सहित अन्य सभी आवश्यक जानकारी लेकर संबंधित बैंक से संपर्क कर ठग द्वारा आवेदक की आहरित राशि 1,25,000/– सकुशल वापस कराई गई। आमजन को सूचित किया जाता है की किसी भी अंजान नंबर से बिजली बिल भुगतान करने व कनेक्शन काटने संबंधी मैसेज आने पर कभी भी दिए गए नंबर पर संपर्क न करे एवं कॉल आने पर विश्वास न करे। साथ ही ठगो के द्वारा भेजी गई लिंक पर क्लिक कभी नही करे और अपना बैंक OTP शेयर न करे अन्यथा आप ठगी का शिकार हो सकते है। इस प्रकार की ठगी होने पर अपने संबंधित थाने पर या क्राइम ब्रांच इंदौर द्वारा द्वारा संचालित सायबर हेल्पलाइन नंबर 704912–4445 पर कॉल कर सूचित करें।