अमेरिका पहुंचा कोरोना वायरस, चीन में 9 की मौत, 500 से ज्यादा बीमार, भारत भी अलर्ट

0

नई दिल्ली। चीन के हुबेई प्रांत के वुहान शहर में नोवेल कोरोना वायरस के कारण निमोनिया बीमारी तेजी से फैल रही है। इस जानलेवा वायरस के कारण चीन में हाहाकार मचा हुआ है। इस बीमारी के कारण चीन में अब तक 450 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं और नौ लोगों की मौत हो चुकी है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के उपमंत्री ली बिन ने बताया कि कोरोनावायरस श्वसन तंत्र के जरिए फैलता है और इससे वायरल म्यूटेशन’ होने और रोग के और फैलने की आशंका बनी है। इस बीच अमेरिका ने देश में इस विषाणु के पहले मामले की पुष्टि कर दी है। अमेरिका ने अपने यहां सिएटल में इससे संबंधित पहला मामला सामने आने की घोषणा की है। अमेरिकी स्वास्थ्य अफसरों ने बताया कि चीन में फैले नए वायरस से जुड़ा एक मामला सामने आया है।

संघीय एवं राज्य अधिकारियों ने बताया कि पीड़ित की उम्र 30 से 35 साल के बीच है और वह वुहान से अमेरिका आया है। इधर, भारत सरकार अलर्ट हो गई है, बल्कि चीन से आने वाले हवाई यात्रियों की मुंबई के छ्त्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर थर्मल जांच करने के आदेश दिए हैं।

बताया जा रहा है कि नोवेल कोरोना वायरस के कारण तेज बुखार आता है और सांस लेने में दिक्कत होने लगती है। इधर, मुंबई में एयरपोर्ट हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन की टीम ने चीन से आने वाले यात्रियों के लिए हेल्थ काउंटर शुरू किया गया है और थर्मल स्कैनर लगाए गए हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन की एडवाइजरी के बाद से एहतियात के तौर पर चीन से मुंबई यात्रा करने वाले यात्रियों को थर्मल जांच से गुजरना होगा। अगर किसी यात्री में नोवेल कोरोना वायरल के लक्षण पाए जाते हैं, तो एयरपोर्ट हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन की टीम की सलाह के मुताबिक तत्काल अस्पताल ले जाया जाएगा।

एयरपोर्ट इसको लेकर प्रतिदिन अपनी रिपोर्ट भी साझा करेगा। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन भी नोवेल कोरोना वायरस से मौत होने की खबर सामने आने के बाद स्थिति की निकटता से समीक्षा कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रयोगशाला जांच, निगरानी, संक्रमण रोकथाम और नियंत्रण से जुड़े लोगों को निर्देश दिया है।