mahendra singh dhoni

BCCI ने टी20 वर्ल्ड कप के लिए महेंद्र सिंह धोनी को टीम इंडिया का मेंटॉर चुना है। ऐसे में इस फैसले को लेकर चारों ओर तारीफ हो रही है। लेकिन इसी बीच एक नया मोड़ भी इस मामले में आया है। बताया जा रहा है कि BCCI की शीर्ष परिषद को धोनी की नियुक्ति के खिलाफ हितों के टकराव की शिकायत मिली है।

जानकारी के अनुसार, मध्य प्रदेश एसोसिएशन के पूर्व अधिकारी संजीव गुप्ता ने BCCI को खत लिख शिकायत की है कि धोनी की नियुक्ति हितों के टकराव का मामला है। जिसमें एक शख्स दो पदों पर एक साथ नहीं रह सकता है। दरअसल, धोनी आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान भी हैं और अब BCCI ने उन्हें टीम इंडिया के साथ बतौर मेंटॉर भी जोड़ा है। वहीं राहुल द्रविड़ ने भी भारतीय अंडर-19 और इंडिया-ए का कोच बनने से पहले आईपीएल से अपना नाता तोड़ा था।

धोनी की नियुक्ति के मुद्दे पर कानूनी टीम से सलाह लेगी BCCI –

BCCI के सूत्रों ने पीटीआई को बताया है कि हां संजीव गुप्ता ने बीसीसीआई चीफ सौरव गांगुली और सचिव जय शाह को शिकायती खत भेजा है। उन्होंने बीसीसीआई के संविधान की धारा 38 (4) का हवाला देते हुए कहा है कि इसके तहत एक शख्स दो पदों पर नहीं रह सकता है। BCCI की उच्च कमेटी को अब अपनी कानूनी टीम से इस मुद्दे पर सलाह लेनी होगी।