कॉमनवेल्थ गेम्स : नीरज चोपड़ा के ओलम्पिक रिकार्ड से ज्यादा दूर फेंका भाला, पाकिस्तानी खिलाड़ी का अब 100 मीटर का लक्ष्य

पाकिस्तान के जेवलिन थ्रोअर अरशद नदीम ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत के ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता जेवलिन थ्रोअर चैम्पियन नीरज चोपड़ा के ओलम्पिक गोल्ड मेडल में फेंके 89.94 मीटर भाले से भी आगे निकलते हुए 90.18 मीटर दूर भाला फेंक कर इतिहास रच दिया है।

पाकिस्तान के भाला फेंक खिलाड़ी (Javelin Thrower) अरशद नदीम ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में गोल्ड मेडल हासिल किया है। अरशद नदीम (Arshad Nadeem) ने भारत के ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता जेवलिन थ्रोअर चैम्पियन नीरज चोपड़ा के ओलम्पिक गोल्ड मेडल में फेंके 89.94 मीटर भाले से भी आगे निकलते हुए कॉमनवेल्थ में 90.18 मीटर दूर भाला फेंक कर इतिहास रच दिया है।

Also Read-बीएसएफ ने जारी की हेडकॉन्स्टेबल और एएसआई की भर्ती, आधिकारिक वेबसाइट पर कर सकते हैं आवेदन

चोटिल होने के बावजूद हासिल किया गोल्ड

पाकिस्तानी गोल्ड मेडलिस्ट जेवलिन थ्रोअर अरशद नदीम ने बताया की इस प्रतियोगिता के दौरान उन्हें मामूली चोट लगी थी, फिर भी उन्होंने 90.18 मीटर का लक्ष्य हासिल किया, यदि उन्हें यह चोट नहीं लगी होती तो उनके द्वारा कम से कम 95 मीटर भाला फेंका जाता ऐसा उन्होंने बताया है। पाकिस्तानी खिलाड़ी ने बताया की अब उनका लक्ष्य जेवलिन थ्रो के सबसे बड़ी दुरी के रिकार्ड को तोडना है।

Also Read-बिहार : सुरक्षागार्ड बना था ‘साकी’, एसबीआई का एटीएम बना था ‘मधुशाला’, बिक रही थी धड़ल्ले से अवैध शराब

इनके नाम है वर्ल्ड रिकार्ड

इंटरनेशनल जेवलिन थ्रो का वर्ल्ड रिकॉर्ड जर्मनी के जान ज़ेलेज़नी के नाम दर्ज है, जान ज़ेलेज़नी ने 25 मई 1996 को 98.48 मीटर दूर भाला फेंका था। पाकिस्तान के जेवलिन थ्रोअर (भाला फेंक खिलाड़ी) अरशद नदीम ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में 90.18 मीटर दूर भाला फेंकने के बाद अब जान ज़ेलेज़नी के 98.48 मीटर दूर भाला फेंकने रिकार्ड को तोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया है, जोकि भारत के नीरज चोपड़ा के लिए एक चुनौती होगी।