आज भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मंत्रियों की बैठक ली गई है. यह बैठक सीएम हाउस पर की गई, बैठक में ‘विकास यात्रा’ को लेकर रोडमैप तैयार किया गया. बैठक में प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, भूपेंद्र सिंह, तुलसी सिलावट सहित कई मंत्री मौजूद रहे. इस बैठक में मंत्रीगणों के दौरे की योजना को लेकर जिला कलेक्टर और जिला प्रशासन से चर्चा कर रूट मैप तैयार कर विकास यात्रा की तैयारी शुरू की जाएगी. इसमें हितग्राहियों को लाभ हितग्राहियों से चर्चा और संवाद शामिल है. साथ ही जिला मुख्यालय के अलावा ब्लॉक में भी मंत्रियों के दौरे होंगे. इसकी ठीक योजना बने ताकि योजनाओं का लाभ व्यवस्थित रूप से मिल सके और दौरे के दौरान विकास के लक्ष्यों का उद्देश्य पूरा हो.

5 फरवरी से 25 फरवरी तक चलेगी विकास यात्रा

वहीं मंत्रीगण विकास दौरे से लौटने के बाद रिपोर्ट देंगे. 5 फरवरी से 25 फरवरी तक सरकार की विकास यात्रा चलेगी. मध्य प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा निकाली जा रही विकास यात्रा में मुख्यमंत्री, मंत्री, सांसद और विधायक भी शामिल होंगे. विकास यात्रा के दौरान जनप्रतिनिधियों की आमसभाओं का भी आयोजन कराया जाएगा. आमसभा के माध्यम से बीजेपी के जनप्रतिनिधि सरकार की योजनाओं से आमजनों को अवगत कराएंगे. मध्य प्रदेश सरकार द्वारा निकाली जा रही विकास यात्रा की जिम्मेदारी प्रदेश के कलेक्टरों को सौंपी गई है. कलेक्टरों को विकास यात्रा का रोडमैप तैयार करके देना होगा.

जिला कलेक्टरों को सौंपी जाएगी जिम्मेदारी

कलेक्टरों को अपने जिले में पहले गांव और पहले वार्ड से अंतिम वार्ड और अंतिम गांव तक की रिपोर्ट देना होगी. विकास यात्रा के दौरान लोकार्पण और अन्य कार्यक्रमों की सूची पहले से ही तैयार रहेगी. विकास यात्रा के दौरान विभागीय मंत्री यात्राओं में निरीक्षण करेंगे. प्रभारी भी जिलों में उतरेंगे. यात्रा के दौरान जनता
की समस्याएं सुनकर उनका समाधान किया जाएगा. राज्य सरकार की अलग-अलग योजनाओं का प्रचार प्रसार भी यात्रा के दौरान किया जाएगा.

Also Read : ठंड को लेकर हैदराबादी आर्टिस्ट ने ली दिल्ली वालों की चुटकी, VIDEO देख नहीं रोक पाओगे हंसी