करियर

‘माय इंडेक्स’ प्लेटफ़ॉर्म से इंडेक्स मेडिकल कॉलेज छात्रों को करवा रहा ऑनलाइन पढ़ाई

इंदौर। लॉकडाउन में शिक्षण संस्थानों के सामने सबसे बड़ी चुनौती छात्रों की पढ़ाई को निरंतर जारी रखना है। इसके लिए ऑनलाइन पढ़ाई ही एकमात्र विकल्प है लेकिन वर्तमान में उपलब्ध संसाधनों की अपनी सीमाएं और समस्याए हैं। प्रदेश के अग्रणी चिकित्सकीय शिक्षण संस्थानों में शुमार इंडेक्स मेडिकल कॉलेज ने पढ़ाई को बगैर तकनीकी समस्या के पूरा करने के लिए खुद का online प्लेटफार्म विकसित किया है। इसके प्रयोग से कॉलेज के करीब सात सौ छात्र हर दिन चार कक्षाओं के माध्मय से अपनी पढ़ाई कर रहे हैं। इंडेक्स ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूट के चेयरमेन सुरेश सिंह भदौरिया के मार्गदर्शन में तैयार किए गए इस प्लेटफार्म का नाम मायइंडेक्स है।

मायइंडेक्स प्रोजेक्ट के इंचार्ज डॉ. प्रेम न्याती और डॉ. राहुल तनवानी ने बताया- कोरोना व अन्य बीमारी से त्रस्त मरीजों के उपचार के साथ ही अपने छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देना इस समय कॉलेज की प्राथमिकता है। कई संस्थानों में जूम, गूगल मीट, वेबएक्स सहित अन्य ऑनलाइन संसाधनों का उपयोग किया जा रहा है। इन संसाधनों में छात्रों की सीमित संख्या, समय की बाध्यता और डाटा की सुरक्षा एक प्रमुख समस्या है। इन समस्याओं से निजात पाने के लिए माय इंडेक्स प्लेटफ़ॉर्म तैयार किया गया है। इसमें छात्र, शिक्षकों के साथ वेबिनार में शामिल अपने साथी छात्रों से भी संवाद कर सकते हैं।

प्लेटफ़ॉर्म पर एक साथ कॉलेज के लगभग 700 छात्र अपनी पढ़ाई पिछले कई दिनों से कर रहे हैं। इसमें स्लाइड प्रेजेंटेशन, वेबकेम, व्हाइट बोर्ड, स्क्रीन शेयरिंग, वीडियो अपलोडिंग, लाइव पोलिंग, अटेंडेंस, लेक्चर रिकॉर्डिंग जैसे अनेक फीचर्स उपलब्ध हैं। मायइंडेक्स प्लेटफ़ॉर्म के समुचित उपयोग से शिक्षण रोचक एवं सुविधाजनक हो गया है। प्लेटफ़ॉर्म को इशारा टेक्नोलॉजीस के डॉ. राहुल टगर्या ने विकसित किया है।

प्लेटफ़ॉर्म के लिए शिक्षक या छात्र को कोई भी एप इंस्टॉल नहीं करना होती है। किसी विदेशी प्लेटफ़ॉर्म या बाहरी कंपनी के सर्वर पर भी इसकी निर्भरता नहीं है। ऑनलाइन सुरक्षा की दॄष्टि से भी यह प्लेटफ़ॉर्म किसी बैंकिंग प्रणाली के जितना सुरक्षित है। इंडेक्स मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ एस. एम. होलकर एवं मालवांचल यूनिवर्सिटी, इंदौर के कुलपति डॉ एन. के. त्रिपाठी के अनुसार संस्थान के सभी शिक्षक इस प्लेटफ़ॉर्म के माध्यम से व्यवस्थित, पूर्वनियोजित कार्यक्रम के अनुसार आसानी ने शिक्षण कार्य संपन्न कर रहे हैं।