Homeदेशमध्य प्रदेशवनवासी महापुरुषों को सम्मान देने का काम BJP ने किया- कैलाश विजयवर्गीय

वनवासी महापुरुषों को सम्मान देने का काम BJP ने किया- कैलाश विजयवर्गीय

इंदौर 26 अक्टुम्बर 2021/ हिन्दू युवा जनजाति संगठन द्वारा आयोजित आज शाम भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव श्री कैलाश विजयवर्गीय ने विधायक व जोबट विधानसभा चुनाव प्रभारी रमेश मेंदोला, सुमित मिश्रा, विशाल रावत, चंदू शिंदे की उपस्थिति में शुभ कारज गार्डन, राजीव गांधी चोराहे पर खंडवा लोकसभा एवं जोबट विधानसभा के इंदौर में अध्यनरत वनवासी छात्रों के साथ संवाद किया। संवाद के पूर्व में श्री विजयवर्गीय, रमेश मेंदोला, विशाल रावत, सुमित मिश्रा ने जनजाति समुदाय के वीर महापुरुष टंट्या भील, बिरसा मुंडा के चित्रों पर माल्यार्पण व दिप प्रज्वालित कर कार्यक्रम की शुरुवात की।

श्री विजयवर्गीय ने जनजाति छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि रावत परिवार में सेवा का जज्बा है, जो जोबट की जनता की कई वर्षों से सेवा कर रहे है। लेकिन उन्हें लगा कि समाज व क्षेत्र का विकास कांग्रेस के साथ नहीं हो पा रहा तो अपने संकल्पो को पूरा करने के लिए वो सेवा करने वाली पार्टी भाजपा से जुड़ गए। जो समाज की समस्या है उसका निराकरण कौन करता है, उसका निराकरण सरकार करती है लेकिन कमलनाथ जी की डेढ़ साल की सरकार ने प्रदेश की जनता के साथ धोखा किया, जो वादे वचन पत्र के किये उन्हें पूरा नहीं किया इसलिये उनकी सरकार गिर गयी।

श्री विजयवर्गीय ने कहा कि टंट्या मामा को 20 साल पहले कौन पहचानता था, बहुत कम लोग टंट्या मामा के इतिहास से परिचित थे, लेकिन जब हमारी सरकार बनी और मुझे पार्टी ने महू की जनता की सेवा करने का अवसर दिया तब भाजपा सरकार ने महू में टंट्या मामा का स्मारक बनाकर उन्हें सम्मान देने का काम किया, उनके इतिहास को जन जन तक पहुँचाने का काम किया। हमें सिर्फ ये पढ़ाया जाता था, कि सिर्फ एक परिवार ने देश को आजादी दिलवाई, लेकिन टंट्या मामा जैसे वीर योध्या ने अंग्रेजों की नाक में दम कर रखा था, दो- दो हज़ार अंग्रेज सैनिकों को चकमा देकर निकल जाते थे, उनका खजाना लूट कर जनजाति समुदाय के परिवारों की सहायता करते थे।

श्री विजयवर्गीय ने कहा कि जब प्रदेश में भाजपा की जब सरकार बनी, शिवराज जी मुख्यमंत्री बने तब हमारी सरकार ने पहला निर्णय वनवासी समाज के बच्चो के हक़ में लिया था, उन्होंने सबसे पहले वनवासी समाज के बच्चों की फीस भरने का ऐतिहासिक निर्णय लिया। श्री विजयवर्गीय ने कहा कि भाजपा कार्यालय में हमें ट्राइबल वेलफेयर का एक डेस्क बनाना चाहिए ताकि जो बच्चे यहाँ पढ़ रहे है, उन्हें कोई समस्या आती है तो वे उस हेल्प डेस्क को बता कर समस्या को दूर किया जा सके। मैंने 1983 ट्राइबल क्षेत्रों की समस्या को जानने के लिए इंदौर से लेकर झाबुआ तक कि पैदल यात्रा की, ओर उनके जनजीवन को जानने का प्रयास किया। राजीव गांधी जब प्रधानमंत्री थे तो वो कहते थे कि हम 1 रुपया भेजते है, तो 15 पैसे पहुचते है, मैं सीना ठोक कर कहता हूँ कि हमारी सरकार आज जो रुपया भेजती है, वो पूरा की पूरा जनधन खाते में पहुचता है, झाबुआ जिले के 25000 से ज्यादा प्रधानमंत्री आवास बने है।

विजयवर्गीय ने कहा कि भारत मे रहने वाले अगर ये कहे कि भारत तेरे टुकड़े होंगे, इंसा अल्लाह अल्लाह तो दुख पहुँचता है, जेएनयू में अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर आतंकवादियों के समर्थन में नारे लगते है तो दुख होता है, लेकिन जब राजनैतिक रोटी सेकने वाले ऐसे लोगों की पीठ थपथपाए तो और ज्यादा दुख होता है, हमें ऐसे राजनैतिकों दलों को सबक सिखाना है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश मजबूत राष्ट्र बनकर उभर रहा है, उनके नेतृत्व को पूरा विश्व मान रहा है, देश को और सशक्त बनाने के लिए हमें मोदी जी के हाथों को मजबूत करना है, इसलिए हमें भाजपा को चुनकर देश मे विकास को और गति देकर भारत को विश्व गुरु बनाना है।
इस अवसर पर विशाल रावत ने भी संबोधित किया।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular